भारत में लांच हुआ देश का पहला CNG ट्रैक्टर
भारत में लांच हुआ देश का पहला CNG ट्रैक्टर Social Media

भारत में लांच हुआ देश का पहला CNG ट्रैक्टर

अब आपको यह भी देश में दिखाई देंगे क्योंकि, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने देश का पहला सीएनजी चालित ट्रैक्टर (CNG Tractor) लॉन्च किया।

राज एक्सप्रेस। देश में पिछले कुछ समय से इलेक्ट्रिक और सीएनजी (CNG) चालित वाहनों का क्रेज काफी तेजी से देखा जा रहा है। देश में पहले ही CNG से चलने वाली कारें और बसें मौजूद हैं। हालांकि, अभी तक देश में सीएनजी (CNG) चालित ट्रैक्टर नहीं थे, लेकिन अब आपको यह भी देश में दिखाई देंगे क्योंकि, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने देश का पहला सीएनजी चालित ट्रैक्टर (CNG Tractor) लॉन्च किया।

दिल्ली में हुआ CNG ट्रैक्टर लांच :

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी शुक्रवार को देश का पहला सीएनजी चालित ट्रैक्टर लांच करने दिल्ली पहुंचे। इस CNG ट्रैक्टर की लांचिंग के मौके पर गडकरी के अलावा धर्मेन्‍द्र प्रधान, जनरल वीके सिंह और पुरुषोत्‍तम रुपाला आदि लोग भी उपस्थित रहे। बता दें, यह ट्रैक्टर देश में प्रदूषण को कम करने के मकसद से पेश किया गया है। CNG ट्रैक्टर इस्तेमाल करने पर खर्च डीजल ट्रैक्टर की तुलना में कम आएगा। यह ट्रैक्‍टर जल्‍द ही भारतीय बाजार में सभी के लिए उपलब्‍ध हो जाएगा।

मानक के आधार पर होगी बिक्री :

बताते चलें, इस CNG ट्रैक्टर की लांचिंग में भी सड़क परिवहन मंत्रालय ने इस ट्रैक्‍टर के लिए कई मानक तय कर दिए हैं। इसी मानक के आधार पर ही यह ट्रैक्‍टर बाजार में उपलब्‍ध कराए जाएंगे। केंद्रीय मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया है कि, इन ट्रैक्टर में एक CNG किट लगाई जाएगी, जिससे खेती पर आने वाले खर्च को कम किया जा सकेगा। हालांकि, यह ट्रैक्टर भी अन्य CNG वाहनों की तरह डीजल से ही स्टार्ट होगा, लेकिन स्टार्ट होने के बाद इसे चलाने के लिए CNG की जरूरत पड़ेगी।

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने बताया :

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने जानकारी देते हुए बताया कि, इस ट्रैक्टर में इस्तेमाल होने वाली CNG किट मेक इन इंडिया के तहत बनाई जाएगी। जिसके लिए तैयारी की जा रही है। सरकार की इस CNG ट्रैक्टर का इस्तेमाल अनेक कार्यो में किया जाएगा। इसके अलावा कृषि और अन्‍य उपकरणों को भी बायोसीएनजी में कनवर्ट करने की योजना है।

ट्रैक्टर की खासियत :

बताते चलें, खेती के दौरान किसी नार्मल ट्रैक्टर के इस्तेमाल से औसत प्रति घंटा 4 लीटर डीजल खर्च होता है। जिसका खर्च 78 रुपए प्रति लीटर के अनुसार 312 रुपए तक आता है। वहीं, CNG ट्रैक्टर चलाने पर 4 घंटे में 200 रुपये के करीब CNG खर्च होने का अनुमान लगाया गया है। इस प्रकार CNG ट्रैक्टर डीजल ट्रैक्टर की तुलना में सस्ते पड़ेंगे। जैसे पेट्रोल वाहन CNG से अधिक एवरेज देते हैं। बताते चलें, देश में लगभग 60% कारें, ट्रक, बस और ट्रैक्टर डीजल से चलते हैं। जो अब तक सस्ते मने जाते थे, लेकिन CNG ट्रैक्टर आयने के बाद यह अवधारणा बदल जाएगी।

प्रदूषण होगा कम :

जानकारी के लिए बता दें, एक डीजल वाहन 7-8 पेट्रोल वाहनों के बराबर प्रदूषण फैलाता है, क्योंकि ट्रैक्टर में कारों के मुकाबले पावर अधिक होती है। वहीं, CNG ट्रैक्टर इन दोनों की तुलना में प्रदूषण कम फैलता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co