सन 2025 तक एक ट्रिलियन डॉलर का हो जाएगा भारत का मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर : राजीव मेमानी

आर्थिक गतिविधियों पर बातचीत में ईवाई इंड़िया के अध्यक्ष और सीईओ राजीव मेमानी ने कहा भारत इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहा है।
Rajeev Memani
Rajeev MemaniRaj Express

हाईलाइट्स

  • वैश्विक अर्थव्यवस्था दबावों की वजह से कमजोर हो रही है

  • जबकि, भारत लगातार आर्थिक रूप से सशक्त हो रहा है

  • देश का विनिर्माण सेक्टर तेज गति से विकसित हो रहा

राज एक्सप्रेस। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) के अवसर पर देश की आर्थिक गतिविधियों को लेकर बातचीत में ईवाई इंड़िया के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी राजीव मेमानी ने कहा कि भारत इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा जहां एक ओर वैश्विक अर्थव्यवस्था अनेक दबावों की वजह से कमजोर दिख रही है, वहीं भारत लगातार आर्थिक रूप से सशक्त हो रहा है। उन्होंने कहा कि 2025 तक भारत का मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर एक ट्रिलियन डॉलर का हो जाएगा। बता दें कि राजीव के पास उद्योग में तीन दशकों से अधिक का अनुभव है।

देश का विनिर्माण के क्षेत्र तेज गति से विकसित हो रहा है। अगर विनिर्माण सेक्टर ने अपने विकास का क्रम जारी रखा, तो कोई वजह नहीं कि यह क्षेत्र अगले दिनों में देश के आर्थिक विकास का नेतृत्व करे। इसके अलावा लेबर लॉ, लॉजिस्टिक्स और कॉस्ट स्ट्रक्चर में भी भारत काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। इलेक्ट्रॉनिक्स या टेलिकॉम मैन्युफैक्चरिंग के मामले में भारत में 20 फीसदी से ज्यादा तेजी देखने को मिल रही है।

यह संतोषजनक स्थिति है कि भारत इन सेक्टर में तेजी से विकास कर रहा है। उन्होंने कहा कि हालांकि, उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स में फिलहाल कुछ सुधार की जरूरत दिुखाई देती है। देश के विनिर्माण सेक्टर की बात करें, तो चीन की तुलना में भारत को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि, इलेक्ट्रॉनिक्स सेक्टर के वैल्यू एडिशन में सुधार है। भारत के आर्थिक सुधार की बात करें तो उद्योग विशेषज्ञों ने भविष्यवाणी की है कि भारत का मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर वर्ष 2025 तक एक ट्रिलियन डॉलर के स्तर को छू लेगा।

इस साल होने वाले लोकसभा चुनाव के परिणाम निश्चित आर्थिक विकास को प्रोत्साहित करेंगे। लोकसभा चुनाव में आर्थिक विकास में निरंतरता के लिए वोट किया गया तो निश्चित की वर्तमान गति से विकास जारी रहेगा। मेमानी ने कहा इस साल अमेरिका में भी चुनाव होने वाला है। अमेरिकी चुनाव के नतीजे भी भारत की अर्थव्यवस्था को सीधे या प्रकारान्तर से प्रभावित करेंगे। इनकी नजर भारतीय चुनाव पर भी है।

उम्मीद है कि मौजूदा चुनाव के आधार पर लोग निरंतरता के लिए मतदान करेंगे। चुनाव से पहले सरकार अपना आखिरी बजट पेश करने के लिए तैयार है। चुनाव के पहले पेश किए जाने वाले अंतरिम बजट में सरकार महंगाई दर से प्रभावित लोगों को टैक्स राहत देने का ऐलान कर सकती है। इससे देश की अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा। ऐसे में उन लोगों को राहत मिलेगी, जिनकी आय़ पर महंगाई की वजह से असर पड़ रहा है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co