Jensen Huang and Nandan Nilekani
Jensen Huang and Nandan NilekaniFounder and CEO of Nvidia and co-founder-chairman of Infosys

जेनरेटिव एआई की मदद से विभिन्न कंपनियों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए इंफोसिस व एनवीडिया ने गठजोड़ किया

इंफोसिस और यूएस चिप मेकर एनविडिया ने बताया दोनों कंपनियों ने जेनेरेटिव एआई एप्लीकेशन की मदद से कपनियों की उत्पादकता बढाने के लिए रणनीतिक साझेदारी की है।

राज एक्सप्रेस। भारतीय आईटी मेजर इंफोसिस लिमिटेड और यूएस चिप मेकर एनविडिया ने बुधवार को बताया है कि दोनों कंपनियों ने जेनेरेटिव एआई एप्लीकेशन की मदद से दुनिया की विभिन्न कपनियों की उत्पादकता बढाने के लिए रणनीतिक साझेदारी की है। एक संयुक्त बयान में उन्होंने बताया एनवीडिया और इंफोसिस मिलकर विभिन्न व्यवसायों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए एआई टूल्स का विकास करेंगे और इनकी मदद से विशेष कार्यबल तैयार करेंगे। एनवीडिया के संस्थापक और सीईओ जेन्सेन हुआंग ने कहा जेनेरेटिव एआई, उत्पादकता की अगली लहर का नेतृत्व करेगी।

अगली लहर का नेतृत्व करेगी जेनेरेटिव एआई

इंफोसिस की एनवीडिया सेंटर आफ एक्सीलेंस में 50 हजार से अधिक कर्मचारियों को जेनेरेटिव एआई की विशेषज्ञता में दक्ष किया जाएगा और उन्हें इसका सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। इंफोसिस के को-फाउन्डर और चेयरमैन नंदन नीलकेणी ने बताया कि एआई आधारित सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए इंफोसिस टोपाज के रूप अपने आपको एआई कंपनी में बदलने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा दुनिया की बहुत सारी विभिन्न कंपनियां भी एआई आधारित सेवा का अपने उत्पादन और विकास में इस्तेमाल करना चाहती हैं। एनवीडिया के संस्थापक और सीईओ जेन्सेन हुआंग ने कहा जेनेरेटिव एआई, उत्पादकता की अगली लहर का नेतृत्व करेगी।

रिलायंस और टाटा के साथ के साथ करेंगे साझेदारी

इंफोसिस के को फाउन्डर और चेयरमैन नीलकेणी ने बताया अपने 50,000 कार्यबल को एनवीडिया एआई तकनीक से प्रशिक्षित करके, हम एंड-टू-एंड उद्योग के लिए अग्रणी एआई समाधान तैयार करने का प्रयास कर रहे हैं। इसकी मदद से उद्यमों को एआई-फर्स्ट बनने में मदद मिलेगी। इस माह की शुरुआत में अमेरिकी चिप निर्माता ने कहा वह भारत में एआई को बढ़ावा देने के लिए रिलायंस, टाटा के साथ साझेदारी करेगी। एनवीडिया और मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भारत में एआई सुपर कंप्यूटर बनाने के लिए साझेदारी की घोषणा की है।

सबसे तेज सुपर कंप्यूटर से भी अधिक शक्तिशाली

दोनों कंपनियों ने अपने संयुक्त बयान में बताया कि दोनों कंपनियां एआई बुनियादी ढांचे के विकास के लिए मिलकर काम करेंगी, जो आज भारत में सबसे तेज सुपर कंप्यूटर से भी अधिक शक्तिशाली है। हुआंग ने कहा टाटा समूह की टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस), टाटा मोटर्स और टाटा कम्युनिकेशंस के साथ साझेदारी का उद्देश्य ऐसे एआई इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण करना है, जो आज भारत में सबसे तेज़ सुपर कंप्यूटर की तुलना में अधिक शक्तिशाली साबित होगा। इस एकीकरण के माध्यम से इंफोसिस ऐसे एआई टूल्स का विकास करेगा, जिन्हें ग्राहक कंपनियां आसानी से स्वीकार कर सकेंगी।

एआई की मदद से वैल्यू चेन में लाया जा सकता है बदलाव

नीलकेणी ने बताया कि इन्फोसिस दुनिया भर में अपने ग्राहकों को एआई-आधारित सेवाएं प्रदान करने के लिए अपने आपको एआई-फर्स्ट कंपनी में तब्दील करने का प्रयास कर रही है। इन्फोसिस के सह-संस्थापक और अध्यक्ष नंदन नीलेकणि ने कहा हमारे ग्राहक जटिल एआई के उपयोग को लेकर बेहद गंभीर हैं, जो उनकी संपूर्ण वैल्यू चेन की गुणवत्ता बढ़ाने में सहायक साबित हों। बेहतर गुणवत्ता और तेज गति से उत्पादन आज के समय की सबसे बड़ी जरूरत है। एआई की मदद से यह लक्ष्य आसानी से हासिल किया जा सकता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co