IRDA suggested to avoid fraud
IRDA suggested to avoid fraud|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

IRDA ने सार्वजनिक नोटिस जारी कर फ्रॉड से बचने के लिए दिए सुझाव

आए दिन ऑनलाइन धोखाधड़ी और फ्रॉड की खबरों को देखते हुए सोमवार को बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDA) द्वारा ठगी और धोखाधड़ी से बचने के लिए लोगों को आगाह करते हुए सुझाव दिया गया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। आज देश में कोरोना के चलते बने हालातों के कारण सैंकड़ों लोग बेरोजगार हो गए हैं। ऐसे में कई लोग गलत कामों में लगा रहे हैं। इसी के चलते देश में क्राइम भी काफी बढ़ता नजर आ रहा है इसी के चलते आए दिन ऑनलाइन धोखाधड़ी और फ्रॉड की खबरें सामने आ रही है। ऐसे में सोमवार को बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDA) द्वारा ठगी और धोखाधड़ी से बचने के लिए लोगों को आगाह करते हुए सुझाव दिया गया है।

IRDA के सुझाव :

दरअसल, बीमा नियामक IRDA द्वारा समय समय पर निर्देश जारी किये जाते रहे हैं। वहीं, देश में बाद रही ऑनलाइन धोखधड़ी और वारदातों को देखते हुए IRDA ने भारत की जनता को बीमा पॉलिसी लेने का सुझाव दिया है। साथ ही लोगों को बीमा पॉलिसी लेने के लिए बीमा कंपनियों या पंजीकृत मध्यस्थों/एजेंटों से सलाह लेने का सुझाव भी दिया है। बता दें, इन निर्देशों को जारी करने के लिए IRDA ने एक सार्वजनिक नोटिस जारी किया है।

IRDA का सार्वजनिक नोटिस :

IRDA द्वारा जारी किए गए सार्वजनिक नोटिस के अनुसार, आम लोगों या पॉलिसी होल्डरों को अज्ञात और गलत इरादे रखने वाले फ्राड कॉल आते रहते हैं। कई मामलों में इन फ्रॉड लोगों ने स्वयं को IRDA का अधिकारी या प्रतिनिधि भी बताया है साथ ही कई मनभावन पॉलिसी या बीना की योजना बता कर ये लोगों से उनका डाटा मांगने की कोशिश करते हैं। नियामक ने आगे बताया कि यह लोग ग्राहकों को बीमा लेन-देन विभाग, RBI या किसी अन्य सरकारी एजेंसियों का नाम लेकर कॉल गुमराह करने की कोशिश करते हैं।

IRDA द्वारा जारी किया गया नोटिस :

IRDA द्वारा जारी किए गए नोटिस में यह भी कहा गया है कि, यह फ्रॉड जिन पॉलिसी या बीमा से जुड़ी जानकारी देते है। उसके अंतर्गत मिलने वाले लाभ जीवन बीमा पॉलिसी के वास्तविकता लाभों से अलग ही होते हैं। ये लोग इन पॉलिसी में बिना दावा वाले बोनस, एजेंसी के कमीशन, निवेश राशि, वृद्धि रकम आदि को वापस करने आदि की चर्चा करते हैं, जो की वैध नहीं बचे हैं। यह सब समझा कर ये फ्राड लोग ग्राहकों से राशि के भुगतान की मांग करते हैं और ग्राहक द्वारा भुगतान करने पर उनका पैसा रख कर उन्हें चूना लगा देते हैं।

स्पष्टीकरण :

नियामक IRDA ने स्पष्टीकरण किया है कि, वह किसी भी प्रकार की बीमा या वित्तीय उत्पादों की बिक्री नहीं करता है और न ही ऐसी किसी कंपनी या एजेंसी से जुड़ा है। IRDA ने साफ़ करते हुए कहा कि, लोगों को सीधे बीमा कंपनियों या पंजीकृत मध्यस्थों/एजेंटों से संपर्क करते हुए बीमा पॉलिसी लेनी चाहिए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co