इजरायल ने भारत की मदद के लिए भेजी जीवन रक्षक उपकरण समेत राहत साम्रगी
इजरायल ने भारत की मदद के लिए भेजीं जीवन रक्षक उपकरण समेत राहत साम्रगीSocial Media

इजरायल ने भारत की मदद के लिए भेजी जीवन रक्षक उपकरण समेत राहत साम्रगी

अब कई देशों के बाद भारत की मदद के लिए इजरायल भी आगे आया है। इसी कड़ी में इजरायल ने भारत के लिए दवाएं और चिकित्सा या जीवन रक्षक उपकरण समेत राहत साम्रगी भेजीं हैं।

राज एक्सप्रेस। आज भारत में सबसे ज्यादा मौतें कोरोना महामारी हो जाने के बाद ऑक्सीजन की कमी होने के चलते हो रही है। कोरोना आज भारत के लिए सबसे बड़ी समस्या बन चुका है। भारत के एक नहीं दो नहीं बल्कि कई राज्य ऐसे हैं जो ऑक्सीजन की कमी से पैदा हुई परेशानी को झेल रहे हैं। हालांकि, भारत के ऐसे मुश्किल दौर में कई देश मदद के लिए आगे आ चुके हैं। वहीं, अब भारत की मदद के लिए इजरायल भी आगे आया है। इसी कड़ी में इजरायल ने भारत के लिए दवाएं और चिकित्सा उपकरण समेत राहत साम्रगी भेजीं हैं।

इजरायल आया मदद के लिए आगे :

दरअसल, महामारी के इस संकट काल में अब तक फ्रांस, कुवैत, रूस अमेरिका और चाइना जैसे कई देश भारत की मदद के लिए हाथ बढ़ा चुके हैं। इन देशों की तरफ से भारत को दवाइयां, ऑक्सीजन कंसेनट्रेटर, वेंटिलेटर्स, बेडसाइड मॉनिटर्स आदि चीजों की मदद पहुंचाई गई है। वहीं, अब भारत में जारी कोरोना की दूसरी लहर के बीच भारत के हालात बाद से बदतर होते नजर आरहे हैं और देश में लगातार बढ़ते मरीजों के चलते अस्पतालों में बेड, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन और दवाओं की कमी हो रही है। तब ऐसे में अन्य देशों की राह चलकर इजरायल ने भी भारत के लिए दवाएं और चिकित्सा उपकरण समेत राहत साम्रगी भेजीं हैं।

पूरे सप्ताह जारी रहेगा सिलसिला :

बताते चलें, भारत की मदद के लिए इजरायल द्वारा भेजे गए उपकरणों में ऑक्सीजन जनरेटर्स और रेस्पेरेटर्रस शामिल हैं। इजरायल की तरफ से ये सभी उपकरण फ्लाईट्स के द्वारा रवाना किये जाएंगे। जिसकी शुरुआत याज यानी मंगलवार से हो गई है और यह सिलसिला पूरे सप्ताह जारी रहेगा। इस बारे में जानकारी देते हुए इजराइल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनज़ी ने कहा कि, 'भारत, इजरायल का सबसे करीबी और महत्वपूर्ण मित्र है। भारत और इजरायल के बीच कई प्रकार के राजनीतिक, रक्षा व आर्थिक गठबंधन है। इस मुश्किल समय में हम पूरी तरह से भारत के साथ खड़े हैं। हम अपने भारतीय भाइयों और बहनों के लिए जीवन रक्षक उपकरण भेज रहे हैं।'

विदेश मंत्री ने दिया धन्यवाद :

खबरों की मानें तो, इजरायल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनज़ी ने इस कार्य में सहयोग करने वाले लोगों और इजरायल की प्रमुख वित्तीय संस्थाओं जैसे इजरायल-भारत चैंबर ऑफ कॉमर्स, इजरायल-एशिया चैंबर ऑफ कॉमर्स, मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ऑफ इजराइल, फेडरेशन ऑफ इजरायल चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स को उनका साथ देने के लिए धन्यवाद दिया है। बता दें, इजरायल का प्रमुख संगठन JDC (American Jewish Joint Distribution Committee) भी भारत की मदद के प्रयासों में शामिल है। JDC की तरफ से भी ऑक्सीजन जनरेटर्स सहित अन्य उपरकणों पहुंचाए जा रहे हैं। इस मामले में इजरायल ने एक बयान जारी किया है।

इजरायल का बयान :

इजरायल द्वारा जारी किए गए बयान में कहा गया है- "हमें याद है कि पिछले साल कोरोनोवायरस संकट की शुरुआत में, भारत ने किस प्रकार इजरायल की सहायता करने के लिए मास्क, दस्ताने और दवाओं के लिए रॉ मटेरियल सहित कई चीजों की एयर डिलीवरी को मंजूरी दी थी और इजराइली नागरिकों को सुरक्षित पहुंचाने में भी मदद की थी"

गौरतलब है कि, इससे पहले रूस द्वारा पिछले महीने कई स्पेशल विमानों द्वारा भारत की मदद के लिए 20 ऑक्सीजन कंसेनट्रेटर, 75 वेंटिलेटर्स, 150 बेडसाइड मॉनिटर्स और दवाइयां भेजी थी। सरल शब्दों में समझे तो रूस द्वारा भारत को 22 मीट्रिक टन राहत सामग्री भेजी गई थी, जो अब भारत के अलग-अलग राज्यों के अस्पतालों तक पहुंचाई जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co