जैक मा की कंपनी के आईपीओ को मिली भारत की जीडीपी से ज्यादा बिडिंग

चीन के दिग्गज कारोबारी जैक मा की कंपनी एंट ग्रुप के आईपीओ के लिए निवेशकों ने तीन लाख करोड़ डॉलर की बिडिंग की है। यह रकम भारत की सकल घरेलू उत्पादन जीडीपी से भी कहीं अधिक है।
जैक मा की कंपनी के आईपीओ को मिली भारत की जीडीपी से ज्यादा बिडिंग
जैक मा की कंपनी के आईपीओ को मिली भारत की जीडीपी से ज्यादा बिडिंगSocial Media

राज एक्सप्रेस। चीन के दिग्गज कारोबारी जैक मा की कंपनी एंट ग्रुप के आईपीओ के लिए निवेशकों ने तीन लाख करोड़ डॉलर की बिडिंग की है। यह रकम भारत की सकल घरेलू उत्पादन जीडीपी से भी कहीं अधिक है। अलीबाबा ग्रुप की मालिकाना हक वाली कंपनी एंट ग्रुप की लिस्टिंग हॉन्ग कॉन्ग और शंघाई एक्सचेंज पर होगी और पांच नवंबर, 2020 से इसके शेयरों की ट्रेडिंग शुरू हो जाएगी। एंट ग्रुप के आईपीओ को यह शानदार रिस्पॉंन्स ऐसे समय में मिला है जब तीन नवंबर को अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव होना है। इस वजह से दुनियाभर के बाजार में नरमी का रुख है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, एंट फाइनेंशियल के आईपीओ में संस्थागत निवेशकों ने 76 अरब शेयर्स के ऑर्डर दिए हैं। यानी यह आईपीओ 284 गुना अधिक सब्सक्राइब हुआ है। एंट ग्रुप ने इस आईपीओ के जरिए 34.4 अरब डॉलर यानी 2.54 लाख करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा था। आपको बता दें कि इस आईपीओ के लिए शंघाई स्टॉक एक्सचेंज पर शेयर का फ्लोर प्राइस 68.8 युआन तय किया गया है। वहीं, हॉन्ग कॉन्ग में इसकी कीमत 80 हॉन्ग कॉन्ग डॉलर रखा गया है।

दुनिया का सबसे बड़ा आईपीओ साबित होगा :

माना जा रहा है कि एंट ग्रुप का यह आईपीओ दुनिया का सबसे बड़ा आईपीओ साबित होगा। अभी सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी सऊदी अरामको का आईपीओ सबसे बड़ा है, जिसने पिछले साल 29.4 अरब डॉलर जुटाया था। इसके पहले 2014 में अलीबाबा सबसे बड़ी आईपीओ लाने वाली कंपनी थी। अलीबाबा ग्रुप ने आईपीओ के जरिये 25 अरब डॉलर जुटाये थे।

315 अरब डॉलर है बाजार मूल्य :

जैक मा के एंट फाइनेंशियल का बाजार मूल्य करीब 315 अरब डॉलर है। इसका वैल्यूएशन मिस्र 303 अरब डॉलर और फिनलैंड 269 अरब डॉलर की जीडीपी से भी ज्यादा है। ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एंट ग्रुप की मार्केट वैल्यूएशन जेपी मोर्गन चेस एंड कंपनी और बैंक ऑफ अमेरिका से भी ज्यादा है। इतना ही नहीं, यह कंपनी पेयपल होल्डिंग इंक 238 अरब डॉलर और वॉल्ट डिजनी 238 अरब डॉलर से भी बड़ी कंपनी है।

11वें अमीर शख्स बन जाएंगे जैक मा :

चीनी उद्योगपति जैक मा की पब्लिक लिस्टिंग के बाद दुनिया के 11वें सबसे अमीर शख्स बन सकते हैं। जैक मा के पास इस कंपनी में कुल 8.8 फीसदी हिस्सेदारी है। एंट फाइनेंशियल में वे सबसे बड़े हिस्सेदार हैं। हॉन्ग कॉन्ग और शंघाई स्टॉक मार्केट में लिस्टिंग के बाद जैक मा की हिस्सेदारी की वैल्यू करीब 27.4 अरब डॉलर हो जाएगी और वे 71.6 अरब डॉलर की संपत्ति के मालिक बन जाएंगे।

डिस्क्लेमर : यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। इसमें राज एक्सप्रेस द्वारा कोई संशोधन नहीं किया गया हैं। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co