केकेआर का रिलायंस ग्रुप में दूसरा निवेश, रिलायंस रिटेल वेंचर्स से होगी डील

एक प्राइवेट इक्विटी (PE) कंपनी केकेआर जल्द ही रिलायंस रिटेल वेंचर्स (RRVL) में हिस्सेदारी हासिल करने जा रही है। बता दें, यह केकेआर का रिलायंस ग्रुप में दूसरा निवेश होगा।
केकेआर का रिलायंस ग्रुप में दूसरा निवेश, रिलायंस रिटेल वेंचर्स से होगी डील
KKR to invest in Reliance Retail VenturesSocial Media

राज एक्सप्रेस। लॉकडाउन के समय से मुकेश अंबानी की कंपनी अपने Jio प्लेटफॉर्म के माध्यम से लगातार एक के बाद एक कंपनियों के साथ डील फ़ाइनल करती गई और इस प्रकार कंपनी ने 13-14 विदेशी कंपनियों के साथ कंपनी की हिस्सेदारी हो गई। वहीँ अब एक अन्य और कंपनी भी रिलायंस रिटेल वेंचर्स (RRVL) में हिस्सेदारी हासिल करने जा रही है। बता दें, वह एक प्राइवेट इक्विटी (PE) कंपनी केकेआर है।

जल्द होगी रिलायंस रिटेल वेंचर्स की डील :

दरअसल, आज रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) भारत की एक ऐसी कंपनी है। जो, काफी समय से सिर्फ विदेश की कई कंपनियों के साथ डील करने के लिए चर्चा में रही है। वहीं, अब RIL कंपनी जल्द ही अपने रिलायंस रिटेल वेंचर्स (RRVL) के जरिए केकेआर के साथ डील करने जा रही है। इस डील के तहत केकेआर कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स (RRVL) में 5,500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इस निवेश के तहत रिलायंस रिटेल वेंचर्स की प्री मनी इक्विटी वैल्यू 4.21 लाख करोड़ रुपए तेह की गई है। इस डील के बाद केकेआर कंपनी को रिलायंस रिटेल में 1.28% के इक्विटी शेयर हासिल हो जाएंगे।

केकेआर का Jio प्लेटफॉर्म में निवेश :

बताते चलें, केकेआर कंपनी द्वारा रिलायंस इंडस्ट्रीज में दूसरी बार निवेश करने जा रही है। केकेआर कंपनी ने इससे पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज के Jio प्लेटफॉर्म में निवेश किया था। पहले केकेआर कंपनी द्वारा Jio प्लेटफॉर्म में 11,367 करोड़ रुपए का निवेश किया गया था। अबकी बार केकेआर कंपनी रिलायंस ग्रुप के रिलायंस रिटेल वेंचर्स (RRVL) में 5,500 करोड़ रुपए का निवेश करने का मन बना रही है। यदि इस प्रकार दोनों बार के निवेश को मिला दिया जाए तो, केकेआर कंपनी रिलायंस ग्रुप में कुल 16,867करोड़ (11,367 +5,500) रुपए का निवेश करेगी। गौरतलब है कि, कंपनी इस रकम से एक निवेश पहले ही कर चुकी है।

छोटे व्यापारियों को जोड़ने का विचार :

रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रुप का मकसद इन डील्स के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों को जोड़ना है। जिसके लिए ग्रुप ने ऐसे व्यापारियों का ट्रांसफॉर्मेशनल डिजिटलाइजेशन भी शुरू किया है। इतना ही नहीं ये व्यापारी 20 मिलियन से अधिक नेटवर्क का विस्तार करने के लिए प्रतिबद्ध भी है। गौरतलब है कि, रिलायंस रिटेल भारत की सबसे बड़ी रिटेल कंपनी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co