Raj Express
www.rajexpress.co
त्योहारों पर गहराया LPG संकट
त्योहारों पर गहराया LPG संकट|Neha Shrivastava - RE
व्यापार

सऊदी अरामको ड्रोन अटैक से LPG सप्लाई चैन गड़बड़

सऊदी अरामको पर हुए आतंकी हमले का असर भारत में लिक्विफाइड पेट्रोलियम गैस (LPG) की सप्लाई पर नजर आता दिख रहा है। सप्लाई प्रभावित होने से घरेलू उपभोक्ताओं को परेशानी होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Neelesh Singh Thakur

हाइलाइट्स :

  • दशहरा-दिवाली सामने, इंडियन कंपनियों की हालत टाइट

  • कई राज्यों में गैस सिलेंडर की डिलेवरी में लगेगा 10-15 दिन का समय

  • ADNOC की पेशकश से राहत की संभावना

राज एक्सप्रेस। सऊदी अरामको (Saudi Aramco) पर हुए आतंकी हमले का असर भारत में भी पड़ा है। ऐन त्यौहारी सीज़न में लिक्विफाइड पेट्रोलियम गैस (LPG) की सप्लाई प्रभावित होने से घरेलू उपभोक्ताओं को परेशानी हो सकती है। महाराष्ट्र में आगामी विधानसभा चुनावों पर भी इसका असर पड़ सकता है। अरामको पर हमले के कारण प्रभावित हुई आपूर्ति के कारण भारत के राज्यों कर्नाटक, पंजाब, गोवा और खासकर महाराष्ट्र में LPG की सप्लाई पर असर पड़ता दिख रहा है।

सप्लाई में वक्त लगने की जानकारी दी :

LPG गैस वितरकों ने कुछ राज्यों में सिलेंडर्स की बुकिंग और सप्लाई में 10 से 15 दिनों का वक्त लगने की जानकारी दी है। फेस्टिव सीज़न के चलते भारत में इन दिनों घरेलू गैस की खासा मांग रहेगी। महाराष्ट्र में अक्टूबर के दौरान असेंबली इलेक्शन प्रस्तावित हैं ऐसे में LPG सप्लाई का दबाव इस राज्य में प्रबल हो सकता है। भारत की LPG पूर्ति के लिए अबु धाबी से भी बात चल रही है।

देश में LPG की बढ़ रही है मांग :

भारत में इन दिनों LPG की किल्लत को लेकर अजीब स्थिति है। एक तरफ फेस्टिव सीज़न के चलते देश में इसकी मांग बढ़ रही है, दूसरी ओर सउदी अरब के बड़े तेल निर्यातक अरामको पर हमले के कारण कुकिंग फ्यूल के प्रोडक्शन में बड़ी गिरावट हुई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक :

इंडस्ट्री की रिपोर्ट्स के मुताबिक, सउदी अरब से हो रही LPG की कमी से महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब और गोवा राज्यों में LPG की आपूर्ति गड़बड़ा सकती है। इन राज्यों में बड़ा बुकिंग बैकलॉग भी बताया जा रहा है।

फिलहाल मौजूदा समय में तो किल्लत जैसी कोई बात नहीं है हालांकि, त्यौहार के लिए एहतियाति कदम जरूर उठाए जा रहे हैं।

संजीव सिंह - चेयरमैनइंडियन ऑयल

अरामको ड्रोन अटैक से भारत की स्थिति दुविधा में :

सऊदी अरामको पर ड्रोन अटैक के बाद से भारत में तेल रिटेलर्स त्यौहारी सीज़न के कारण दुविधा की स्थिति में हैं। त्यौहारी सीज़न के चलते आने वाले हफ्तों में मांग बढ़ना तय है। हमले के बाद सऊदी अरामको ने कुछ शिपमेंट्स स्थगित कर दिए हैं। इस वजह से कुछ राज्यों के रिटेलर्स को LPG की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। नवरात्र, दशहरा, दिवाली जैसे बड़े त्यौहारों में LPG की घरेलू और परिवहन मांग में तेजी से उछाल भी आने वाला है।

इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन दिवाली से पहले डिलेवरी के लिए LPG की आपूर्ति सुधरने की आस लगाए हुए हैं। ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इंडियन ऑयल के चेयरमैन संजीव सिंह ने कहा है कि, अगले महीने कंपनी को LPG की भारी मांग का सामना करना होगा।

सिंह के मुताबिक, सऊदी से संकेत मिल रहे हैं कि, अगले महीने अक्टूबर में शिपमेंट्स में भी शुरूआती परेशानी खड़ी हो सकती है।

हम कुछ अतिरिक्त एलपीजी के लिए बहुत मेहनत कर रहे हैं। हर कोई कोशिश कर रहा है, क्योंकि अक्टूबर-नवंबर मुश्किल मंथ हैं।

संजीव सिंह - चेयरमैनइंडियन ऑयल

हालांकि, सिंह ने हाल फिलहाल किसी क्राइसिस से इनकार किया और कहा कि सिर्फ आगामी त्यौहारी सीज़न के चलते एहतियाति कदम उठाए जा रहे हैं।

व्यापार जगत की खबरों के मुताबिक, अबु धाबी नेशनल ऑयल कंपनी ने अरामको की कमी को पूरा करने भारत में LPG के दो अतिरिक्त शिपमेंट्स की पेशकश की है। कार्गोस़ अगले कुछ हफ्तों में भारत पहुंच जाएगा।

भारत दूसरा सबसे बड़ा LPG आयातक :

दुनिया में भारत दूसरा सबसे बड़ा LPG आयातक है। भारत की कुल जरूरत में से आधे की पूर्ति सउदी अरब, कतर, ओमान और कुवैत के साथ विदेशी सप्लायर्स करते हैं। सरकार की प्रधान मंत्री उज्जवला योजना (PMUY) के देश में विस्तारीकरण योजना कार्य से भी बीते सालों के दौरान देश में LPG की मांग तेजी से बढ़ रही है। आगामी फेस्टिव सीज़न में LPG आपूर्ति का गणित देश में सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक सभी मामलों में खास होने वाला है।