MP Government Released Guide Line for Employees
MP Government Released Guide Line for Employees|Social Media
व्यापार

केंद्र के बाद अब MP सरकार ने दिए कर्मचारियों के लिए ये निर्देश

कोरोना का इलाज न मिलने तक सावधानी वर्तना ही सबसे उचित उपाय है। वायरस से निपटने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने कई अहम् निर्देश दिए। बता दें, मप्र से पहले ही केंद्र सरकार भी इस तरह के निर्देश दे चुकी है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। पूरी दुनिया कोरोना वायरस की दहशत में जी रही है, कोरोना जैसी महामारी का कोई इलाज न मिलने तक सावधानी बरतना ही सबसे उचित उपाय है। इससे निपटने के लिए मध्य प्रदेश की सरकार ने कई अहम् कदम उठाये हैं और उनका ऐलान किया है। बता दें, मध्य प्रदेश के साथ ही केंद्र की सरकार भी इस तरह के निर्देश दे चुकी है।

क्या है सरकार द्वारा उठाए कदम :

मध्य प्रदेश की सरकार ने ऐलान किया है कि, राज्य के सभी कार्यलयों में सभी कर्मचारियों में से एक दिन में 50% कर्मचारी दफ्तर जाकर काम करेंगे और बाकी के 50% कर्मचारी घर से काम करेंगे। इसके बाद यह क्रम उल्टा हो जाएगा। अगले दिन बाकि घर पर कार्य करने वाले कर्मचारी दफ्तर जाकर कार्य करेंगे और दफ्तर में कार्य करने वाले कर्मचारी घर से। सरकार द्वारा लागू की गई यहीं व्यवस्था 31 मार्च तक रोटेशन में रहेगी। बता दें कि, केंद्र सरकार द्वारा भी कर्मचारियों को घर से कार्य करने और कंपनियों को वेतन न काटने के निर्देश दे दिए गए हैं। साथ ही आवश्यक कार्य करने वाले कर्मचारियों में आधे को घर से और आधे को दफ्तर से कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं।

क्या-क्या होगा बंद :

मध्य प्रदेश की सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों द्वारा आज से 31 मार्च तक भोपाल के सभी मॉल बंद रहेंगे, हालांकि, मॉल में उपस्थित ग्रॉसरी, सब्जी और फलों की दुकानें और सभी सुपर मार्केट खुले रहेंगे। इनके अलावा किसी भी मैरिज गार्डन, सरकारी और प्राइवेट रेस्ट हाउस, टेंट हॉउस, कम्युनिटी हाॅल आदि 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे, इनमें किसी तरह का कोई भी कार्यक्रम नहीं किया जाएगा। इमरजेंसी जैसे हालातों में प्रशासन सभी संस्थाओं की बिल्डिंग का अधिग्रहण कर सकता है।

वहीं, अब मध्य प्रदेश की सरकार ने भोपाल से कुछ रूट्स पर जाने वाली बसों को भी रद्द कर दिया है। इन रूट्स में भोपाल से पुणे, मुंबई और मध्य प्रदेश से लगे हुए सभी राज्य राजस्थान, महाराष्ट्र के शहरों को जाने वाले रूट्स को शामिल किया गया है। सरकार द्वारा प्रतिबंध का उल्लंघन करने वाले प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी संबंधित बस ऑपरेटर के खिलाफ कार्रवाई कर सकती है। इन खतरनाक वायरस का असर अब ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग पर भी पड़ता नजर आ रहा है। सरकार ने मंदिर के कपाट 11 दिन तक बंद रखने के आदेश दिए हैं, इन दिनों सिर्फ पुजारी ही पूजा-अर्चना कर सकेंगे।

केंद्र सरकार का फैसला :

वहीं, मध्य प्रदेश की सरकार से पहले ही केंद्र सरकार लगभग भीड़-भाड़ वाले सभी इलाके जैसे स्कूल-कॉलेज, माल्स, जिम, सिनेमा घर आदि जगहों को 31 मार्च तक पहले ही बंद करने के आदेश दे चुकी है। यहाँ तक की बोर्ड परीक्षाओं को भी रद्द कर दिया गया है।

जांच हेतु सम्पर्क करें :

सरकार ने यह भी आदेश दिए है कि, यदि आप जनवरी के बाद विदेश से आए हों ताेे, स्क्रीनिंग जरूर करवाएं, भले ही आप स्वस्थ क्यों न हों। क्योंकि, ऐसा करने से आप पूरी तरह सुरक्षित रहेंगे। यदि आपके आसपास भी कोई विदेश से आया है और उसको जांच करने के लिए निम्नलिखित नंबर उपलब्ध कराएं।

जानकारी प्राप्त करने हेतु :

  • स्टेट हेल्पलाइन नंबर : 0755-2527177

  • नेशनल हेल्पलाइन नंबर : 011-23978046

  • सेंट्रल हेल्पलाइन नंबर: 1075

  • ईमेल: ncov2019@gmail.com

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co