semi conductor
semi conductor Raj Express

माइक्रोन व उसकी सहायक कंपनियों ने भारत में सेमीकंडक्टर इकाई लगाने की शुरू की तैयारी

सेमी कंडक्टर बनाने वाली अमेरिकी कंपनी माइक्रोन और उसकी सहायक कंपनियों ने भारत में इकाई लगाने की तैयारी शुरू कर दी है।

हाईलाइट्स

  • जल्दी ही सेमीकंडक्टर उत्पादन के मामले में आत्मनिर्भर हो जाएगा भारत

  • भारत में कई कंपनियां शुरू करने वाली हैं सेमी कंडक्टर का उत्पादन।

  • दक्षिण कोरिया की कंपनी सिमटेक ने भारत में निवेश का ऐलान किया है।

राज एक्सप्रेस । सेमी कंडक्टर बनाने वाली अमेरिकी कंपनी माइक्रोन ने भारत में निवेश के लिए जून में पीएम नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा के दौरान समझौता किया गया था। । अब उसने भारत में इकाई शुरू करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। पिछले छह से सात महीनों के दौरान माइक्रोन के साथ काम करने वाली कई कंपनियों ने भी भारत में निवेश की तैयारी शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि अगले दिनों में भारत सेमी कंडक्टर के मामले में पूरी तरह से आत्मनिर्भर बन जाएगा।

गुजरात वाइब्रैंट सम्मेलन में सेमीकंडक्टर बनाने वाली दक्षिण कोरिया की कंपनी सिमटेक ने भारत में निवेश का ऐलान किया है। दक्षिण कोरियाई कंपनी के सीइओ जेफरी चुन ने कहा कि उनकी कंपनी भारत में निवेश करेगी। कंपनी माइक्रोन के लिए सेमीकंडक्टर के हिस्सों का निर्माण करती है। उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी माइक्रोन के साथ ही मिलकर काम करती है। इस लिए वह भी भारत में अपनी उत्पादन फैसिलिटी का विकास करेगी।

चुन ने कहा कि उनकी कंपनी माइक्रोन के साथ मिल कर भारत को सेमी कंडक्टर की आपूर्ति श्रंखला को मजबूत बनाने में सहहोग करेगी। इसी सम्मेलन में टाटा समूह के अध्यक्ष एन चेंद्रसेखरन ने ऐलान किया है कि टाटा समूह अपनी सेमीकंडक्टर इकाई लगाने की तैयारी पूरी कर चुका है। समूह अपना प्लांट गुजरात में लएगा। उन्होंने संक्षेप में बताया कि कंपनी ढोलेरा में एक विशाल सेमीकंडक्टर फैब्रिकेशन प्लांट लगाएगी।

एक अन्य कंपनी एनवीडिया ने कहा वह गुजरात के गिफ्ट सिटी में अपना एआइ सेंटर स्थापित करने जा रही है, जो अगले दो माह में ही काम करना शुरू कर देगा। एनवीडिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष शंकर त्रिवेदी ने कहा कि भारत में आर्टिफिशिएल इंटेलीजेंस सेक्टर में एक वैश्विक हब बनने की क्षमता है। एनवीडिया कंपनी टाटा समूह और रिलायंस समूह के साथ मिल कर डाटा सेंटर स्थापित करने के प्रोजेक्ट पर काम कर रही है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co