मुकेश अंबानी
मुकेश अंबानी|Social Media
व्यापार

खुद की और कर्मचारियों की सैलरी को लेकर मुकेश अंबानी का बड़ा फैसला

रिफाइंड प्रोडक्ट्स और पेट्रोकेमिकल्स की मांग घटने और मंदी की चपेट में आने से सबसे बड़ी रिलायंस कंपनी के हाइड्रोकार्बन बिजनेस को काफी नुकसान हुआ है। इसी के चलते मुकेश अंबानी ने एक बड़ा फैसला किया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। आज पूरा भारत कोरोना जैसी जानलेवा महामारी के संकट से जूझ रहा है और इस संकट में सबसे बड़ा नुकसान भारत की अर्थव्यवस्था को हो रहा है। देश में आर्थिक मंदी का माहौल है और इस मंदी की चपेट में आने से बड़ी से बड़ी कंपनियां घाटा झेल रहे हैं। इन बड़ी कंपनियों में भारत की सबसे बड़ी कंपनी 'रिलायंस इंडस्ट्री' भी शामिल है। जी हां, रिलायंस इंडस्ट्री का नाम सुन कर आपको जरूर हैरानी हुई होगी, लेकिन रिफाइंड प्रोडक्ट्स और पेट्रोकेमिकल्स की मांग घट जाने से रिलायंस कंपनी के हाइड्रोकार्बन बिजनेस को काफी नुकसान हुआ है। इसी के चलते मुकेश अंबानी ने एक बड़ा फैसला किया है।

मुकेश अंबानी का फैसला :

कोरोना संकट में भारत की सबसे बड़े अमीर शख्स मुकेश अंबानी को भी अपनी कंपनी में घाटा उठाना पड़ा है। जिसके चलते उन्होंने अपनी कंपनी के कर्मचारियों की सैलरी में कटौती करने का फैसला किया है। मुकेश अंबानी ने रिलायंस के हाइड्रोकार्बन वाले बिजनेस में कार्यरत उन सभी कर्मचारियों की सैलरी से कटौती करने का फैसला किया है, जिनकी सैलरी 15 लाख रूपये सालाना से ज्यादा है। मुकेश अंबानी ऐसे कर्मचारियों की सैलरी में से 10% की कटौती करेंगे। साथ ही वह कंपनी के डायरेक्टर्स की सैलरी में से 30 से 50% तक की कटौती भी करेंगे। इनके अलावा परफॉर्मेंस अधिकारी आधारित बोनस को भी फिलहाल के लिए टाल दिया जाएगा।

कंपनसेशन नहीं लेंगे मुकेश अंबानी :

कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा है कि, कंपनी उन कर्मचारियों की सैलरी में कटौती नहीं करेगी। जिनकी सैलरी सालाना 15 लाख रूपये से कम है, बाकी बचे कर्मचारियों जिनकी सैलरी 15 लाख सालाना से ज्यादा है और डायरेक्टर्स की सैलरी में से कटौती की जाएगी। वहीं, बोनस को भी कुछ समय के लिए रोक दिया जाएगा। इतना ही नहीं कंपनी के MD और चेयरमैन यानी मुकेश अंबानी स्वयं साल भर का कंपनसेशन नहीं लेंगे।

कंपनी का कहना :

कंपनी का कहना है कि, लॉकडाउन के कारण पेट्रोलियम की डिमांड काफी घट गई है, जिसके चलते कंपनी को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है कंपनी का बिजनेस रेवेन्यू काफी घट गया है। मुकेश अंबानी द्वारा लिए गए इस फैसले के बाद रिलायंस इंडस्ट्री कंपनी के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर हितल आर मेसवानी ने कर्मचारियों को एक पत्र जारी कर यह जानकारी दी है। पत्र में बताया गया है कि, कंपनी नुकसान के चलते इस यह फैसला ले रही है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के तिमाही आंकड़े :

बताते चलें, गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्री के तिमाही के आंकड़े जारी किए जाने थे, इसी दौरान कंपनी पिछले 30 साल में पहली बार राइट्स इश्यू लाने पर विचार कर रही है। जिसके बारे में भी जल्द ही घोषणा की जा सकती है। बता दें हाल ही में रिलायंस इंडस्ट्री के टेलीकॉम बिजनेस यानी रिलायंस Jio ने फेसबुक के साथ एक डील साइन की है। इस डील से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए - क्लिक करें

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co