NINL दो साल बाद फिर से शुरु होने को है तैयार, Tata Steel के CEO ने दी जानकारी

सरकारी कंपनी 'नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड' (NINL) को बिजनेसमैन रतन टाटा द्वारा खरीद लिया गया है। इस फैसले के बाद अब लगभग दो साल बाद यह कंपनी फिर से शुरु किए जाने की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं।
NINL दो साल बाद फिर से शुरु होने को हट तैयार
NINL दो साल बाद फिर से शुरु होने को हट तैयारSyed Dabeer Hussain - RE

राज एक्सप्रेस। पिछले कुछ समय से देश में कई क्षेत्रो में प्राइवेटाइजेशन हुआ है। इनमें भारत के कई एयरपोर्ट के प्राइवेटाइजेशन की खबर सामने आई थी। वहीं, पिछले कुछ समय से सरकार ने बैंकों का प्राइवेटाइजेशन किया है। हालांकि, सरकार के इस फैसले का जमकर विरोध हुआ है। इसके बाद भी अब सरकार ने कंपनी की कमान प्राइवेट हाथों में सौंप दी है। जी हां, ओडिशा स्थित 'नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड' (NINL) सरकारी कंपनी को दिग्गज बिजनेसमैन रतन टाटा द्वारा खरीद लिया गया है। इस फैसले के बाद अब लगभग दो साल बाद यह कंपनी फिर से शुरु किए जाने की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं।

NINL फिर से शुरु होने को है तैयार :

दरअसल, ओडिशा स्थित नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड (NINL) कंपनी पिछले काफी समय से घाटे में चल रही थी। इस कंपनी का प्लांट 30 मार्च, 2020 यानी 2 साल से बंद पड़ा है। ये कंपनी लगातार हो रहे घाटे के चलते बंद हो गई थी। इन सब के चलते अब नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड (NINL) की कमान रतन के टाटा ग्रुप (Tata Group) ने थाम ली है। अब इस कंपनी का संचालन Tata Group की एक कंपनी करेगी। इस कंपनी की कमान थामने की प्रोसेस अब पूरी हो चुकी है।अब यह कंपनी लगभग दो साल बाद खुलने को तैयार है। कंपनी ने इसके लिए क्या तैयारी की है उसके बारे में जानकारी Tata Steel के CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर टीवी नरेंद्रन (TV Narendran) ने दी है।

Tata Steel के CEO ने दी जानकारी :

Tata Steel के CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर टीवी नरेंद्रन (TV Narendran) ने कंपनी द्वारा की गई तैयारियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि, 'नीलाचल इस्पात के कारखाने को अगले तीन महीने में शुरू करने का लक्ष्य है। यानी कंपनी अब जल्दी ही खुलेगी। हम मौजूदा कर्मचारियों के साथ काम करने और करीब दो साल से बंद पड़े कारखाने को दोबारा से शुरू करने को तैयार हैं। हमें अगले तीन महीने में उत्पादन शुरू होने और अगले 12 महीने में स्थापित क्षमता प्राप्त कर लेने की उम्मीद है। हम Tata Steel NINL की क्षमता बढ़ाकर 50 लाख टन करने और इसके लिये जरूरी मंजूरी हासिल करने को लेकर भी कदम उठाने वाले हैं।

अधिकारी ने बताया :

कंपनी से जुड़े एक अधिकारी ने बताया है कि, 'Tata Steel की यूनिट टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स (TSLP) ने इस साल जनवरी में 12,100 करोड़ रुपये के उद्यम मूल्य पर NINL में 93.71% हिस्सेदारी हासिल करने की बोली जीती थी।' बता दें, जब रतन टाटा ने यह बोली जीती तब उस लिस्ट में जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड, नलवा स्टील एंड पावर लिमिटेड और JSW स्टील लिमिटेड जैसी कंपनियों ने भी बोली लगाई थी। रतन टाटा ने इस कंपनी का अधिग्रहण तब किया है, जब नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड का कलिंगनगर पर 31 मार्च 2021 को 6,600 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का कर्ज और देनदारियां बाकी हैं। इस कर्ज में से प्रमोटरों का हिस्सा 4,116 करोड़ रुपये, बैंकों का हिस्सा 1,741 करोड़ रुपये और बाकि बचा अन्य लेनदारों और कर्मचारियों का है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co