Ola ने दी बैंक ऑफ बड़ौदा से हुए अधिग्रहण की जानकारी
कैब कंपनी Ola में निकाला कमाई का नया तरीका, वसूलेगी राइड कैंसिल पर पैसा
Kavita Singh Rathore -RE

Ola ने दी बैंक ऑफ बड़ौदा से हुए अधिग्रहण की जानकारी

Ola ने पिछले साल तमिलनाडु में अपनी पहली इलेक्ट्रिक स्कूटर फैक्ट्री की स्थापित करने की जानकारी दी थी। वहीं, अब कंपनी ने इसके लिए बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) से अधिग्रहण की जानकारी दी है।

ऑटोमोबाइल। अब तक आपने Ola नाम की सिर्फ कैब देखी होंगी और पिछले कुछ समय से आप कई फोटोज और वीडियो में Ola का इलेक्ट्रिक स्कूटर देख रहे हैं। वहीं, लेकिन अब आप जल्द ही Ola नाम का असली में देख सकेंगे। क्योंकि, अब कैब सर्विस प्रोवाइडर कंपनी Ola जल्द ही भारतीय ऑटोमोबाइल मार्केट में अपनी नई इलेक्ट्रिक स्कूटर लांच करने वाली है। कंपनी ने इस स्कूटर को लेकर कहा था वह इसे भारत में ही निर्मित करेगी। जिसके लिए वह भारत में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट भी स्थापित करेगी। कंपनी की तैयारी जोरो पर नजर आरही हैं क्योंकि, कंपनी ने उसके लिए बैंक ऑफ बड़ौदा से अधिग्रहण की घोषणा की है।

BoB के साथ किए समझौते पर हस्ताक्षर :

दरअसल, कैब सर्विस देने वाली बहुचर्चित कंपनी Ola ने पिछले साल तमिलनाडु में अपनी पहली इलेक्ट्रिक स्कूटर फैक्ट्री की स्थापित करने की जानकारी दी थी। वहीं, अब कंपनी ने इसके लिए बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) से अधिग्रहण की जानकारी दी है। 'Ola कंपनी ने सोमवार को जानकारी देते हुए बताया है कि, 'कंपनी ने बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) के साथ 10 साल की अवधि के लिए 10 करोड़ अमेरिकी डॉलर यानी लगभग 744.5 करोड़ रुपये) जुटाने के लिए ऋण वित्तपोषण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।'

कंपनी का बयान :

बताते चलें, Ola कंपनी की यह फैक्ट्री स्थापित होने के बाद दुनिया का सबसे बड़ा स्कूटर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट बन जाएगा और यहां 10,000 लोगों को रोजगार का मौका मिलेगा। जिनकी सालाना उत्पादन क्षमता एक करोड़ इकाइयों की होगी। यानि कंपनी 1 साल में अपने 20 लाख स्कूटर बनाएगी। इस प्लांट की स्थापना तमिलनाडु में 500 एकड़ जगह में की जाएगी। इस मामले में कंपनी ने सोमवार को एक बयान जारी किया है। इस बयान में कहा कि, '10 करोड़ अमेरिकी डॉलर का 10 साल का कर्ज ओला फ्यूचरफैक्ट्री के पहले चरण के वित्त पोषण के लिए है। फ्यूचरफैक्ट्री इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के लिए ओला का वैश्विक विनिर्माण केंद्र है। ओला ने पिछले साल दिसंबर में कहा था कि वह कारखाने के पहले चरण की स्थापना के लिए 2,400 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।'

Ola के चेयरमैन ने दी जानकारी :

इस अधिग्रहण को लेकर Ola कंपनी के चेयरमैन और ग्रुप सीईओ भाविश अग्रवाल ने कहा, ‘‘ओला और बैंक ऑफ बड़ौदा के बीच दीर्घकालिक ऋण वित्तपोषण के लिए आज हुआ समझौता रिकॉर्ड समय में दुनिया के सबसे बड़े दोपहिया वाहन विनिर्माण संयंत्र की स्थापना की हमारी योजनाओं में संस्थागत उधारदाताओं के विश्वास का संकेत देता है। हम दुनिया के लिए टिकाऊ गतिशीलता और भारत में निर्मित ईवी के विनिर्माण में तेजी लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं और हमें खुशी है कि बैंक ऑफ बड़ौदा हमारी यात्रा में शामिल हो गया है।’’

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co