भारत में तेजी से बढ़ रही गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ
भारत में तेजी से बढ़ रही गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथSocial Media

भारत में तेजी से बढ़ रही गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ, दुनिया के टॉप पांच देशों के बाजारों में भारत शामिल

आज जब हर वर्ग के युवा गेम खेलना पसंद करने लगे हैं तो, हर तरह के गेम भी लांच होने लगे हैं। इसी का नतीजा है बीते कुछ सालों में घरेलू ऑनलाइन गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ काफी तेजी से बढ़ी है।

राज एक्सप्रेस। देश दुनिया में गेम खेलने का चलन तब से ही है जब से मोबाईल फोन का निर्माण हुआ है। पहले सांप और पज़ल वाला गेम छोटे मोबाईल फोन में आया करते थे, लेकिन स्मार्टफोन ने तो जैसे गेमिंग इंडस्ट्री के पर लगा दिए हो। अब तो मार्किट में अनेक तरह के गेम मौजूद है। जिससे आज हर उम्र के युवा गेम खेलना पसंद करने लगे है, चाहें वो छोटे बच्चे हो या कोई वरिष्ठ। इसी के चलते आज गेमिंग इंडस्ट्री अपनेआप में एक बहुत बड़ी इंडस्ट्री बन गई है और यह इंडस्ट्री काफी तेजी से ग्रोथ कर रही है।

तेजी से बढ़ रही है गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ :

दरअसल, आज जब हर वर्ग के युवा गेम खेलना पसंद करने लगे हैं तो, हर तरह के गेम भी लांच होने लगे हैं। इसी का नतीजा है गेम खेलने वालों की संख्या में भी बढ़त दर्ज हुई है और इसका नतीजा है कि, बीते कुछ सालों में घरेलू ऑनलाइन गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ काफी तेजी से बढ़ी है। इस मामले में जानकारी बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप और वेंचर कैपिटल फर्म सिकोइया ने दी है। इस जानकारी के अनुसार, भारत में वर्तमान समय में ऑनलाइन गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ सालाना 38% की स्पीड से बढ़ रही है। ये यदि वर्तमान हालात हैं तो, आप सोच सकते हैं देश में 5G टेलीकॉम सर्विसेस आने के बाद गेमिंग इंडस्ट्री किस कदर ग्रोथ करने वाली हैं।

अन्य देशों का हाल :

बताते चलें, भारत में गेमिंग इंडस्ट्री की ग्रोथ जिस स्पीड से बढ़ रही है। उसकी तुलना में यदि अमेरिका और चीन की ग्रोथ देखे तो अमेरिका में गेमिंग इंडस्ट्री यह ग्रोथ सिर्फ 10% और चीन में 8% की रफ्तार से बढ़ रही है। वहीं, KPMG द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार, वर्तमान समय में देश में 400 से ज्यादा गेमिंग कंपनियां हैं जो कही तरह के गेम लांच करती ही जा रही हैं। वहीं, ऑनलाइन गेमर्स की संख्या लगभग 42 करोड़ हैं। ऑनलाइन गेमर्स की सबसे ज्यादा संख्या सिर्फ चीन में है। वर्तमान हालत देखें तो दुनिया के शीर्ष पांच मोबाइल गेमिंग बाजारों में अब भारत का नाम भी शामिल हो चुका है। KPMG द्वारा जताए गए अनुमान के मुताबिक, 'वित्त वर्ष 2023-24 के आखिर तक भारतीय गेमिंग इंडस्ट्री की आय 29,400 करोड़ से ऊपर निकल जाएगी, जो कि, 2020-21 में 14,311 करोड़ रुपए थी।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co