OYO extended his staff leave by 6 months
OYO extended his staff leave by 6 months |Syed Dabeer -RE
व्यापार

OYO ने कर्मचारियों की छुट्टी बढ़ाने के साथ ही दिया नौकरी छोड़ने का विकल्प

कोरोना संकट के चलते बुरी तरह से प्रभावित हुई रूम सेवा प्रदाता कंपनी OYO ने अपने कर्मचारियों की छुट्टी बढ़ाने का फैसला किया है। साथ ही कर्मचारियों को स्वेच्छा से नौकरी छोड़ने का विकल्प भी दे दिया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस के चलते कई सेक्टर का हाल तो मानो ऐसा हो गया था, जैसे उनकी रीड की हड्डी ही टूट गई हो। इन हालातों के चलते इन सेक्टर्स को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा। इन सेक्टर्स में होटल, रेस्टोरेंट्स, टूर एंड ट्रैवल एजेंसी कैब सर्विस और रूम की सुविधा प्रदान करने वाली कंपनियां भी शामिल हैं। हालांकि, अब कुछ सेक्टर्स में सुधर दिखने लगा है परंतु कुछ की हालत अभी भी ठीक नहीं है। इसी के चलते रूम उपलब्ध कराने वाली कंपनी 'OYO' ने अपने कर्मचारियों की छुट्टी अगले 6 महीने तक बढ़ाने जैसा बड़ा फैसला किया है।

OYO कंपनी का बड़ा फैसला :

कोरोना संकट के चलते बुरी तरह से प्रभावित हुई रूम सेवा प्रदाता कंपनी OYO ने बीते महीनों में अपने कर्मचारियों की छटनी करने जैसे फैसले भी लिए थे। इसके अलावा कंपनी ने मई में अपने कई कर्मचारियों को छुट्टी पर भेज दिया था। वहीं, अब कंपनी ने हालातों को मद्देनजर रखते हुए अगले 6 महीनों के लिए बढ़ाने का ऐलान कर दिया है। साथ ही कंपनी ने अपने कर्मचारियों को एक ने विकल्प भी मुहैया कराया है। इस अन्य विकल्प के तहत कोई भी कर्मचारी चाहे तो कंपनी से नौकरी छोड़ सकता है।

कब से कब तक रहेगी छुट्टी :

बताते चलें, लॉकडाउन के दौरान OYO कंपनी को भरी नुकसान का सामना करना पड़ा है। इस नुकसान से उबरने के लिए ने कंपनी ने अपने कर्मचारियों की छुट्टी को अब से अगले 6 महीने यानि 28 फरवरी 2021 तक बढ़ाने का ऐलान कर दिया है। बता दें, जिन कर्मचारियों की छुट्टी बढ़ाई गई है। उन्हें मई में चार महीने की छुट्टी पर भेजा गया था। इसके अलावा कंपनी ने अपने कर्मचारियों के लिए यह विकल्प भी दे दिया है कि, यदि कर्मचारी चाहे तो वह स्वयं अपनी मर्जी से कंपनी छोड़ कर जा सकता है।

राहत की भी घोषणा :

बताते चलें, कंपनी के कर्मचारियों के लिए इन 2 ऐलानों के साथ ही राहत की भी घोषणा की हैं। जिसके तहत कर्मचारियों के लिए वित्तीय सहायता, ESOP वेस्टिंग पर छूट, हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज देने की योजनाएं शामिल हैं। बताते चलें, देश के अनलॉक होने के बाद कंपनी ने कोरोना काल से पहले की 30% क्षमता के साथ काम करना शुरु कर दिया है।

कंपनी के CEO का कहना :

इस मामले में कंपनी के CEO रोहित कपूर का कहना है कि, 'कंपनी को हालातों को देखते हुए ऐसा करना पड़ रहा है। कंपनी आदर्श स्थिति में कभी ऐसा कदम नहीं उठती। कंपनी अच्छे से जानती है कि कर्मचारियों को कंपनी से बहुत उम्मीद है, लेकिन हमें इस फैसले पर खेद हैं। हम वर्तमान में ऐसी दुनिया में जी रहे हैं जहां सब कुछ आदर्श से बहुत दूर है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co