स्वामी प्रभुपाद की 125वीं जयंती पर PM मोदी जारी करेंगे 125 रुपये का सिक्का
PM मोदी जारी करेंगे 125 रुपये का सिक्काSocial Media

स्वामी प्रभुपाद की 125वीं जयंती पर PM मोदी जारी करेंगे 125 रुपये का सिक्का

अब आप जल्द ही मार्केट में 100 रूपये से भी ज्यादा का सिक्का देख सकेंगे। क्योंकि, प्रधानमंत्री मोदी कल यानी स्वामी प्रभुपाद की 125वीं जयंती पर 125 रुपये का सिक्का जारी करेंगे।

राज एक्सप्रेस। आज से बहुत साल पहले मार्केट में अपने 5, 10, 20, 25 और 50 पैसे के सिक्के देखे होंगे, लेकिन धीरे-धीरे इन सिक्कों का नामों निशान तक मिट गया आजकल यह सिक्के कुछ ही लोगों के पास शौकिया तौर पर (कलेक्शन का शौक रखने वाले) दिखाई देते हैं। वर्तमान समय में मार्केट में 1, 2, 5 और 10 रूपये के सिक्के देखेने को मिलते हैं, लेकिन आजतक इससे ज्यादा की रकम का सिक्का नहीं देखा गया है, लेकिन अब आप जल्द ही मार्केट में 100 रूपये से भी ज्यादा का सिक्का देख सकेंगे। क्योंकि, प्रधानमंत्री मोदी कल 125 रुपये का सिक्का जारी करेंगे।

PM मोदी करेंगे 125 रुपये का सिक्का जारी :

दरअसल, देश में अब तक कई सिक्के जारी किए जा चुके हैं, लेकिन अब श्री भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद की 125वीं जयंती के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विशेष स्मारक सिक्का जारी करेंगे। यह सिक्का 125 रुपये का होगा। बताते चलें, इस बारे में जानकारी प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के माध्यम से सामने आई है। इस मामले में PMO ने एक बयान जारी कर बताया है कि, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभा को संबोधित करेंगे। यह समारोह शाम के 4.30 बजे शुरू किया जाएगा और इस मौके पर केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी भी मौजूद रहेंगे। इसी दौरान इस 125 रुपये के सिक्के को जारी किया जाएगा।

इस्कॉन की स्थापना :

बताते चलें, स्वामी प्रभुपाद ने 1966 में न्यूयॉर्क में इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (ISKCON) की स्थापना की थी, जिसे “हरे कृष्ण आंदोलन” के रूप में भी जाना जाता है और आज लगभग भारत सहित दुनियाभर के देशों में इस्कॉन टैम्पल मौजूद है। इस्कॉन ने श्रीमद भगवद गीता और अन्य वैदिक साहित्य का 89 भाषाओं में अनुवाद किया है, जो प्रसार में एक तारकीय भूमिका निभाते हैं। PMO ने कहा कि, 'स्वामीजी प्रभुपाद ने सौ से अधिक मंदिरों की स्थापना की और कई किताबें लिखीं, जो दुनिया को भक्ति योग का मार्ग सिखाती हैं।'

वीडियो कांफ्रेंसिंग से होगा प्रसारण :

बताते चलें, भारत सरकार ने कोरोना प्रोटोकॉल को मद्देनजर रखते हुए इस ऐतिहासिक कार्यकम का आयोजन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए करने का फैसला किया है। इसका सीधा प्रसारण किया जाएगा। समारोह में भाग लेने के लिए लिंक की डिटेल जल्द ही 125,000 प्रतिभागियों को साझा किया जाएगी। बता दें, जन्माष्टमी के अवसर पर इस्कॉन मंदिर में काफी रौनक देखने को मिलती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co