Zoom App Porn Clip Played
Zoom App Porn Clip Played|Seyd Dabeer -RE
व्यापार

Zoom ऐप द्वारा कॉन्फ्रेंस क्लास के दौरान प्ले हुआ पोर्न वीडियो

लॉकडाउन में लोग मीटिंग करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप 'Zoom' का इस्तेमाल कर रहे हैं। हाल ही में इस एप से जुड़ी डाटा चोरी की खबरें सामने आई थीं। वहीं, अब 'Zoom' से जुड़ा एक नया मामला सामने आया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन के समय में कई लोगों से एक साथ बात करने के या किसी प्रकार की कोई मीटिंग करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसके लिए चाइना की बहुचर्चित ऐप 'Zoom' का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस ऐप का इस्तेमाल अनेक देशों के प्रधानमंत्रियों और प्रसिडेंट भी करते नजर आ रहे हैं। हाल ही में इस एप से जुड़ी डाटा चोरी की खबरें सामने आई थी। वहीं, अब 'Zoom' से जुड़ा एक नया मामला सामने आया है।

'Zoom' ऐप से जुड़ा नया मामला :

लॉक डाउन के दौरान स्कूल और कॉलेज बंद है, जिसके चलते बच्चों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए क्लासेस ली जा रही हैं और इसके लिए Zoom ऐप का इस्तेमाल किया जा रहा है। दरअसल, चंडीगढ़ के एक स्कूल में साइंस टीचर Zoom ऐप के द्वारा विद्यार्थियों को साइंस पढ़ा रही थी, इतने में ही एक विद्यार्थी की स्क्रीन पर पोर्न वीडियो चलने लगा और यह स्क्रीन पर लगातार 5 मिनट तक चलता रहा। इस ऐप को लेकर टीचर को ज्यादा जानकारी ना होने के कारण वह समझ ही नहीं पा रही थी कि, इससे बंद कैसे किया जाए।

इस घटना को देखकर पहले तो स्कूल मैनेजमेंट को यह लगा कि विद्यार्थी ने यह हरकत जानबूझकर कर की है, परंतु स्टूडेंट्स से बात करने के बाद यह जानकारी सामने आई कि, विद्यार्थी ने यह जानबूझकर नहीं किया और इस दौरान उसके पिता भी वहीं मौजूद थे। वह इस बात के साक्षी हैं। इसके बाद स्कूल मैनेजमेंट ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने जब इस बारे में साइबर क्राइम एक्सपर्ट्स से बात की तो उन्होंने इसे जूम बॉम्बिंग बताया।

क्या है Zoom बॉम्बिंग (Bombing) :

दरअसल, इस मामले में ऐसा बच्चे की गलती के कारण नहीं बल्कि हैकिंग के कारण हुआ। zoom ऐप से जुड़े इस तरह के कई मामले पहले भी दुनिया भर से सामने आ चुके हैं। यह एक तरह की हैकिंग है, जिसमें किसी भी मीटिंग है क्लासेज के दौरान कॉन्फ्रेंसिंग को हैक करके स्क्रीन पर पोर्न वीडियो प्ले कर दिया जाता है। टेक्निकल भाषा में इस तरह की हैकिंग को एक्सपर्ट Porn Bombing कहते हैं। इसे सरल शब्दों में समझे तो, यदि कोई अजनबी यूजर Zoom द्वारा हो रही किसी मीटिंग या क्लास में जबर्दस्ती एंटर कर ले, तो उसे 'Zoom बॉम्बिंग' कहते हैं। इस तरह की घटनाओं में न केबल पोर्न वीडियो बल्कि कुछ भड़काऊ फोटो दिखाने के मामले भी सामने आचुके हैं।

DM के निर्देश :

सरकार ने लोगों की निजता का ख्याल रखते हुए इन घटनाओं को देखकर यूजर्स को Zoom न इस्तेमाल करने की सलाह दी है। साथ ही यह भी कहा है कि Zoom ऐप इस्तेमाल करना सुरक्षित नहीं है। इस घटना के सामने आने के बाद DM कौशल राज शर्मा ने शैक्षणिक संस्थानों को Zoom ऐप का इस्तेमाल ना करते हुए यूट्यूब का इस्तेमाल करने की सलाह दी है। साथ ही उन्होंने कुछ सुझाव भी दिए हैं -

  • Zoom ऐप का इस्तेमाल ना करते हुए यूट्यूब का इस्तेमाल करें।

  • सभी टीचर्स वीडियो बनाकर यूट्यूब पर अपलोड करें।

  • टीचर्स को यूट्यूब पर वीडियो में प्रश्नोत्तरी के लिए 5 से 10 बच्चों को छोटा छोटा ग्रुप बनाने का भी उपाय दिया।

  • 1 दिन में एक ही विषय को पढ़ाने की सलाह भी दी है जिससे बच्चे आसानी से समझ सकें।

  • कक्षा 9वी तक के विद्यार्थियों को लगातार 90 मिनट से अधिक ना पढ़ाने के निर्देश भी दिए हैं ।

  • लगातार 90 मिनट की अवधि में 5 से 10 मिनट का ब्रेक दिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि, 90 मिनट से ज्यादा मोबाइल फोन में लैपटॉप सक्रिय रहने से आंख पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। टीचर्स क्लासिस लेते समय इन सब बातों का विशेष ध्यान रखें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co