Uday kotak
Uday kotakRaj Express

उदय कोटक ने कोटक महिंद्रा बैंक के MD व CEO पद से दिया इस्तीफा, बाहर से देते रहेंगे मार्गदर्शन

देश के सबसे अमीर बैंकर उदय कोटक ने कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी और सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया है। वह नान एग्जीक्यूटिव के रूप में कंपनी से जुड़े रहेंगे।

हाईलाइट्स

  • उदय कोटक ने 1985 में नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी के रूप में की थी शुरुआत जो आगे चलकर बैंक बन गया

  • ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार उदय कोटक की कुल संपत्ति करीब 13.4 बिलियन डॉलर

राज एक्सप्रेस । देश के सबसे अमीर बैंकर उदय कोटक ने कोटक महिंद्रा बैंक के प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्यकारी (सीईओ) पद से इस्तीफा दे दिया है। कंपनी ने शनिवार को स्टॉक एक्सचेंज को यह जानकारी दी। बैंक के जॉइंट एमडी दीपक गुप्ता 31 दिसंबर तक उनकी जिम्मेदारी संभालेंगे, लेकिन इसके लिए आरबीआई और बैंक के सदस्यों की मंजूरी की जरूरत होगी। बैंक ने एक जनवरी, 2024 से नए एमडी और सीईओ की नियुक्ति के लिए आरबीआई में आवेदन किया है। उल्लेखनीय है कि उदय कोटक ने कुछ समय पहले ही बैंक में एक्टिव रोल से खुद को अलग करने के संकेत दिए थे।

अब नान एक्जीक्यूटिव भूमिका निभाना चाहते हैं उदय कोटक

पिछले दिनों शेयरहोल्डर्स को भेजे एक पत्र में उन्होंने कहा था वह बैंक में अब सक्रिय भूमिका से अलग होकर नॉन-एग्जीक्यूटिव भूमिका निभाना चाहते हैं। जाने माने बैंकर उदय कोटक को जनवरी, 2021 में तीन साल के लिए फिर से बैंक का एमडी और सीईओ नियुक्त किया गया था। उनका कार्यकाल 31 दिसंबर, 2023 तक था। दिसंबर में इस पद पर उन्हें 15 साल पूरे हो जाएंगे। इससे पहले ही उन्होंने यह पद छोड़ने का फैसला किया है। उदय कोटक ने साल 1985 में एक नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी के रूप में इस संस्थान की शुरुआत की थी, जो आगे चलकर एक बैंक बन गया। वह तभी से इस बैंक का नेतृत्व कर रहे थे। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार, उदय कोटक की कुल संपत्ति करीब 13.4 बिलियन डॉलर है।

13.4 बिलियन डॉलर है उदय कोटक की नेटवर्थ

उल्लेखनीय है कि 1985 में एक नान बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी के रूप में कोटक महिंद्रा की शुरुआत की गई थी। सन 2003 में इसने एक कमर्शियल बैंक का रूप ले लिया। उदय कोटक 1985 से ही बैंक को लीड करते आ रहे हैं। उदय कोटक की गिनती भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के बड़े बैंकरों में की जाती है। वह दुनिया के चोटी के अमीरों में गिने जाते हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर्स इंडेक्स के अनुसार, उदय कोटक की मौजूदा नेटवर्थ करीब 13.4 बिलियन डॉलर है। इक्विटी शेयर कैपिटल के हिसाब से कोटक महिंद्रा बैंक में उदय कोटक के पास करीब 26 फीसदी हिस्सेदारी है।

केवल तीन लोगों के साथ की थी शुरुआत

उदय कोटक ने अपनी कंपनी की शुरुआत तीन लोगों के साथ की थी। वह अक्सरल कहते थे कि मैं जब भी जेपी मॉर्गन या गोल्डमैन सैश जैसे नाम सुनता था तो मुझे लगता था कि मैं भी भारत में ऐसी ही संस्था शुरू करूगा। उसी सपने को पूरा करने के लिए 38 साल पहले मैंने कोटक महिंद्रा की शुरुआत की थी। अपनी एनबीएफसी की शुरुआत हमने 300 स्क्वेयर फीट के ऑफिस में 3 कर्मचारियों के साथ की थी। तब से हमने लंबी यात्रा तय की है और आज हमारी कंपनी ने बैंक का रूप ले लिया है और सबसे अच्छी बात यह है कि उसे वित्तीय सेवा क्षेत्र में सम्मान के साथ देखा जाता है।

4 दशक पहले 10 हजार के निवेश से शुरू की थी कंपनी

आज के समय में यह देश में चौथे नंबर का बैंक है। यह बैंक अभी सीधे तौर पर एक लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार उपलब्ध करा रहा है। उदय कोटक करीब 4 दशकों की इस बेमिसाल यात्रा को अपने जीवन की विकास यात्रा करार देते हैं। वह यह बताते हुए भावुक हो जाते हैं कि कैसे 1985 में उन्होंने केवल 10 हजार रुपये के निवेश से कंपनी की शुरूआत की थी। मार्केट कैप के लिहाज से भारत के सबसे अमीर बैंकों की सूची में चौथे नंबर पर कोटक महिंद्रा बैंक का स्थान आता है। इस बैंक का बाजार पूंजीकरण 368,339.69 करोड़ रुपये हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co