PUBG will separated from Tencent
PUBG will separated from Tencent|Syed Dabeer -RE
व्यापार

चीनी ऐप बैन का असर, Tencent से खुद को अलग करने की तैयारी में PUBG

भारत द्वारा बैन की गई एप्स में चीन की बहुत ही ज्यादा पॉपुलर ऐप्स गैमिंग ऐप PUBG भी शामिल है और PUBG की पैरेंट कंपनी चीन की 'Tencent Games' है, परंतु अब जल्द ही यह दोनों अलग हो जाएंगी।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। भारत में लद्दाख के बॉर्डर पर चाइना द्वारा की गई कार्यवाही के बाद से ही भारत ने चीन के खिलाफ सख्त रवैया अपनाते हुए कार्यवाही करना शुरू कर दिया था। इसी राह में भारत अब तक चीन की सैकड़ों ऐप्स बैन कर डिजिटल स्ट्राइक कर चुका है। भारत सुरक्षा हवाला देते हुए 2 सितंबर को भी 118 मोबाइल ऐप्स बैन करने का ऐलान किया था। भारत द्वारा बैन की गई एप्स में चीन की बहुत ही ज्यादा पॉपुलर ऐप्स गैमिंग ऐप PUBG भी शामिल है और PUBG की पैरेंट कंपनी चीन की 'Tencent Games' है, परंतु अब जल्द ही यह दोनों अलग हो जाएंगी।

Tencent से अलग होगी PUBG कॉरपोरेशन :

दरअसल, भारत में PUBG बैन होने से 'Tencent Games' को 2.48 लाख करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। जबकि, भारत में PUBG की रेवेन्यू हिस्सेदारी 5% से भी कम है। इसके बाद अब भारत में एक बार फिर PUBG गेम को लाने के लिए PUBG गेम की डेवलप करने वाली कंपनी PUBG कॉरपोरेशन ने चीन की कंपनी 'Tencent Games' से अलग होने का फैसला कर लिया है।

PUBG का संचालन :

गौरतलब है कि, PUBG गेम को दक्षिण कोरिया की कंपनी PUBG कॉरपोरेशन ने तैयार किया है, परंतु भारत और चीन में PUBG मोबाइल और PUBG मोबाइल लाइट का संचालन चीन की कंपनी 'Tencent Games' करती आई है। भारत में PUBG बैन होने के बाद PUBG कॉरपोरेशन द्वारा भारत की सरकार से भारत में PUBG गेम की वापसी को लेकर बातचीत चल रही है। वहीं, कंपनी ने अपनी वेबसाइट द्वारा जानकारी देते हुए बताया है कि, अब कंपनी ने भारत में PUBG की वापसी के लिए खुद को 'Tencent Games' से अलग कर लिया है।

कंपनी का कहना :

PUBG कॉरपोरेशन का कहना है कि, भारत में PUBG गेम की पूरी जिम्मेदारी कंपनी स्वयं लेगी। साथ ही कंपनी अपने फैन्स को नया अनुभव देने के लिए भी कुछ अलग करेगी। हालांकि, PUBG गेम के बैन होने के बाद भी अब भी जिन लोगों के फोन में यह गेम मौजूद है, वह इसे खेल पा रहे हैं। इसके अलावा डेस्कटॉप यूजर भी इस गेम को खेल पा रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co