Railways canceled crore tickets due to lockdown
Railways canceled crore tickets due to lockdown |Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

लॉकडाउन के चलते रेलवे ने अब तक किए करोड़ों टिकिट कैंसिल

लॉकडाउन के चलते रेलवे द्वारा कई बार टिकिट की बुकिंग कर उन्हें कैंसिल किया गया। इस प्रकार रेलवे ने 1 करोड़ से भी ज्यादा टिकिट कैंसिल किए। जिससे रेलवे को काफी नुकसान भी उठाना पड़ा।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस जैसे जानलेवा वायरस से फैल रहे संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 मार्च से ही पूरे भारत में लॉक डाउन की घोषणा कर दी गई थी। जिसे हालातों को देखते हुए लगातार बढ़ाया जाता रहा था। ऐसे हालातों को मद्देनजर रखते हुए तब से ही भारत की रेलवे सुविधा ठप्प थी। इसके बाद जरूरतों को देखते हुए रेलवे द्वारा कुछ स्पेशल ट्रेने चलाई गई। परंतु इस दौरान रेलवे द्वारा अगला-अगल कई बार टिकिट की बुकिंग कर उन्हें केंसिल भी किया गया। इस प्रकार रेलवे ने 1 करोड़ से भी ज्यादा टिकिट कैंसिल किए गए। जिससे रेलवे को कई बार नुकसान भी उठाना पड़ा।

रेलवे ने किए करोड़ो टिकिट कैंसिल :

दरअसल, अलग-अलग राज्यों में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए रेलवे द्वारा इन राज्यों में ट्रेनों की सुविधा को रद्द करके रखा है। हालांकि, बीच-बीच के कई बार ट्रेनों के लिए टिकिट की बुकिंग भी हुई, परंतु रेलवे ने बुक हुए इन टिकिट को कैंसिल करते हुए यात्रियों को पैसे रिफंड कर दिए। गौरतलब है कि, मार्च 2020 से अब तक 1,78,70,644 टिकट रद्द किए जा चुके है। जिससे रेलवे को यात्रियों को लघभग 2727 करोड़ रुपये की रकम वापस करनी पड़ी। इस बारे में जानकारी स्वयं IRCTC ने दी है।

रेलवे को हुआ नुकसान :

भारत में रेल सेवाएं 25 मार्च से ही रद्द थी। कोरोना से बने हालातों के चलते पहली बार ऐसा हुआ कि रेलवे को टिकट बुकिंग से जितनी कमाई नहीं हुई उससे ज्यादा यात्रियों को रिफंड करना पड़ गया। जिससे साल 2020-21 की पहली तिमाही में रेलवे को 1066 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। जिनकी पिछले साल अप्रैल से 11 अगस्त के बीच की अवधि में रेलवे ने यात्रियों को 3,660.08 करोड़ रुपये रिफंड किए थे और रेलवे का राजस्व 17,309.1 करोड़ रुपये का था। बता दें, ऐसा पहली बार ही हुआ है जब रेलवे ने इतनी ज्यादा संख्या में टिकिट कैंसिल किए हों।

अप्रैल से जून तक रेलवे का राजस्व और आय :

वित्त वर्ष 2019-20 की पहली तिमाही में रेलवे को -

  • अप्रैल में 531.12 करोड़ रुपये राजस्व घटा और आय 4,345 करोड़ रुपये रही।

  • मई में 145.24 करोड़ रुपये राजस्व घटा और आय 4,463 करोड़ रुपये रही।

  • जून में 390.6 करोड़ रुपये का राजस्व घटा और आय 4,589 करोड़ रुपये रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co