रेलवे ने तय किया AC इकोनॉमी क्‍लास का नया किराया
रेलवे ने तय किया AC इकोनॉमी क्‍लास का नया किरायाSocial Media

रेलवे ने तय किया AC इकोनॉमी क्‍लास का नया किराया

रेलवे ने अपने बहुप्रतीक्षित AC इकोनॉमी क्‍लास का किराया सस्ता कर नया किराया तय कर दिया है। इसके बाद देश के लोग अब सस्ते में AC इकोनॉमी क्‍लास में सफर कर सकेंगे।

राज एक्सप्रेस। देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण कई समय तक बंद पड़ी रही ट्रेनों के कारण भारतीय रेलवे को काफी घाटा उठाना पड़ा है। इस नुकसान को कम करने के लिए रेलवे तरह-तरह की स्कीम लेकर आ रही है। यदि आप ज्यादातर AC3 इकोनॉमी क्लास में सफर करते हैं तो, इस नई स्कीम का फायदा आप लोगों को मिलेगा। इन्हीं स्कीम के तहत अब रेलवे ने अपने बहुप्रतीक्षित AC इकोनॉमी क्‍लास का किराया सस्ता कर नया किराया तय कर दिया है। इसके बाद देश के लोग अब सस्ते में AC इकोनॉमी क्‍लास में सफर कर सकेंगे।

AC इकोनॉमी क्‍लास का किराया हुआ सस्ता :

रेलवे को पिछले साल कोरोना के चलते लगातार नुकसान उठाना पड़ा। इसके बावजूद भी रेलवे अपने यात्रियों के लिए कई खास सुविधाओं की पेशकश करना चाहती है। रेलवे कोरोना से पहले से ही अपने यात्रियों की सुविधा को देखते हुए नई-नई योजनाएं लेकर आती रही है। वहीं, अब रेलवे ने बहुप्रतीक्षित AC इकोनॉमी क्‍लास का किराया कम करने का फैसला किया है। रेलवे पिछले कुछ समय से इसकी तैयारी में जुटी हुई है। रेलवे ने AC इकोनॉमी क्‍लास कोच का नया किराया तय कर दिया है। रेलवे ने नया किराया AC3 डिब्बों से कम तय किया है। खबरों की मानें तो, AC इकोनॉमी क्‍लास का किराया AC3 क्लास के किराये से लगभग 8% कम तय किया गया है। इस किराए के तय होने से स्लीपर क्लास में यात्रा करने वाले भी AC इकोनॉमी क्‍लास में यात्रा कर सकेंगे।

रेलवे की योजना :

खबरों की मानें तो, रेलवे की नई योजना AC3 इकोनॉमी क्‍लास कोच को पटरी पर उतारने को लेकर है। इसी के चलते पंजाब की कपूरथला रेल कोच फैक्ट्री में AC3 इकोनॉमी क्लास के 50 कोच तैयार किए गए हैं और इन कोच को देशभर के अलग-अलग रेलवे जोन में भेज दिया गया हैं। जबकि रेलवे की योजना इस साल ऐसे ही कुल 800 कोच तैयार करने की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, इनमें से 300 कोच इंटिग्रल कोच फैक्ट्री चेन्नई, 285 कोच मॉडर्न कोच फैक्ट्री रायबरेली और 177 रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला में तैयार किए जाएंगे।

AC3 और स्लीपर कोच में बढ़ी बर्थ की संख्या :

बताते चलें, आमतौर पर AC3 और स्लीपर कोच में 72 बर्थ होती हैं, लेकिन AC3 इकोनॉमी क्लास में जगह का एडजस्टमेंट करके 83 बर्थ लगाई गई हैं। इसके लिए साइड में उपलब्ध रहने वाली 2 बर्थ को 3 बर्थ में बदला गया है। ऐसा करने से AC3 इकोनॉमी क्लास में बर्थ की संख्या 15% तक बढ़ गई हैं। साईट बढ़ने से ज्यादा यात्री सफ़र कर सकेंगे और इससे रोल्वे को फायदा होगा। इसके अलावा AC3 कोच को छोड़कर बाकी सभी कोच में रेलवे को हर साल 20-25 पर्सेंट तक घाटा उठाना पड़ता है। इस बात को मद्देनजर रखते हुए रेलवे ने AC3 कोच में सुधार और टिकट की कीमतों में कमी की है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co