टाटा ग्रुप के हाथ फिर आई Air India की कमान, रतन टाटा बोले: 'वेलकम बैक'
टाटा ग्रुप के हाथ फिर आई Air India की कमान, रतन टाटा बोले: 'वेलकम बैक' Kavita Singh Rathore -RE

टाटा ग्रुप के हाथ फिर आई Air India की कमान, रतन टाटा बोले: 'वेलकम बैक'

टाटा ग्रुप ने एयरलाइन के लिए लगाई बोली जीत कर Air India की कमान अपने हाथ में ले ली है। वहीं, रतन टाटा ने खुशी जाहिर करते हुए Air India का स्वागत किया।

राज एक्सप्रेस। घाटे का सामना कर रही एयरलाइन कंपनी Air India अपनी दिवालिया प्रोसेस से गुजर रही थी। एयरलाइन को खरीदने के लिए लगातार अन्य कंपनियों द्वारा बोलियां लगाई जा रही थीं। इस एयरलाइन को खरीदने के लिए टाटा ग्रुप बहुत पहले से अपनी रूचि दिखाते आ रहा है। वहीं, जब सभी बोलियाँ सामने आगई हैं तब, टाटा संस (Tata Group) द्वारा सबसे बड़े अमाउंट की बोली लगाई गई है। यानी कि, Tata Sons का नाम सबसे बड़े बोलीदाता के रूप में सामने आया है। इस प्रकार टाटा ग्रुप ने एयरलाइन के लिए लगाई बोली जीत कर Air India की कमान अपने हाथ में ले ली है। वहीं, रतन टाटा ने खुशी जाहिर करते हुए Air India का स्वागत किया।

रतन टाटा ने किया Air India का स्वागत :

दरअसल, यह बात बहुत ही कम लोग ही जानते हैं कि, भारत की सरकारी क्षेत्र की हवाई सेवा प्रदान करने वाली एयरलाइन कंपनी 'Air India' की शुरुआत 68 साल पहले साल 1932 में टाटा ग्रुप के चेयरमेन 'जहांगीर रतनजी ददभोय टाटा' (JRD Tata) ने की थी और अब एक बार फिर ऐसा समय आ गया है जब इतने साल पुराना इतिहास दोहराया जा रहा है क्योंकि, अब टाटा ग्रुप ही एक बार फिर इस 'Air India' एयर लाइन की कमान मिल गई है। इस पर टाटा ग्रुप के मालिक रतन एन टाटा (Ratan N. Tata) ने अपने ट्विटर अकाउंट द्वारा Air India' के लिए अपने समूह की बोली मंजूर करने की घोषणा पर खुशी जाहिर करते हुए लिखा,

'वेलकम बैक-एयर इंडिया'

रतन एन टाटा, टाटा ग्रुप के मालिक

रतन टाटा ने पोस्ट की एक तस्वीर :

बताते चलें, रतन टाटा द्वारा किए गए पोस्ट में उन्होंने एक तस्वीर भी पोस्ट की है। जिसमें कई यात्री Air India के एक बोइंग 747 विमान से उतार रहे हैं। उनमे सीढ़ियों के नीचे सैल्यूट की मुद्रा में जेआरडी टाटा खड़े दिखायी दे रहे हैं और उनके पीछे भारतीय वेशवूषा में विमान परिचारिकाओं का समूह है। उस फोटो पर लिखा है कि, "एयर इंडिया के लिए नीलामी में टाटा समूह के लिए एक बड़ी सफलता है। यह मानते हुए कि एयर इंडिया को फिर से मजबूत करने में बड़ा प्रयास करना होगा। पर उम्मीद है कि इससे विमानन उद्योग में टाटा समूह की उपस्थिति के एक मजबूत बाजार अवसर प्राप्त होगा। एक समय था जब उनके नेतृत्व में Air India दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित एयरलाइंस थी। टाटा के पास मौका है कि Air India को ये पहचान दोबारा दिलाए। अगर हम ऐसा कर पाते हैं तो, JRD टाटा खुश होंगे हम सरकार के भी शुक्रगुजार हैं कि उसने हाल में कई इंडस्ट्री को प्राइवेट सेक्टर के लिए खोलने की नीति अपनाई है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.