RBI नियुक्त प्रशासक ने बढ़ाई अनिल अंबानी की मुश्किलें, शुरू की बिक्री की तैयारी

बीते दिनों रिलायंस इंफ्रा को दिल्ली मेट्रो के मामले में अनिल अंबानी की मुश्किलें बढ़ रही थीं। वहीं अब भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नियुक्त प्रशासक ने अनिल अंबानी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।
RBI नियुक्त प्रशासक ने बढ़ाई अनिल अंबानी की मुश्किलें
RBI नियुक्त प्रशासक ने बढ़ाई अनिल अंबानी की मुश्किलेंSyed Dabeer Hussain - RE

राज एक्सप्रेस। काफी समय से नुकसान और विवादों में घिरे रिलायंस एंटरटेनमेंट ग्रुप के मालिक अनिल अंबानी की मुश्किलें पिछले दिनों कुछ कम होती नजर आ रही थीं, लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि, अनिल अंबानी की मुसीबतें इतनी आसानी से नहीं टलने वाली हैं। क्योंकि, बीते दिनों रिलायंस इंफ्रा को दिल्ली मेट्रो के मामले में मुश्किलें हो रही थीं, वहीं अब भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नियुक्त प्रशासक ने अनिल अंबानी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

कैसे बढ़ी अनिल अंबानी की मुश्किलें :

दरअसल, अनिल अंबानी की काफी समय से नुकसान का सामना कर रही कर्ज में डूबी कंपनी रिलायंस कैपिटल अब बिकने की कगार पर आ पहुंची है। इसकी बिक्री की तैयारी भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नियुक्त प्रशासक ने शुरू कर दी है। इन तैयारियों के तहत रिलायंस कैपिटल की बिक्री के लिए रूचि पत्र (EOI) भी आमंत्रित कर लिए गए हैं। हालांकि, EOI से इस बात का खुलासा होना बाकी है कि, इसकी बिक्री के लिए कौन-कौन सी कंपनियां बोली लगने वाली हैं। इस मामले में रिलायंस कैपिटल ने नियामक फाइलिंग को जानकारी दी है।

रिलायंस कैपिटल ने दी जानकारी :

रिलायंस कैपिटल ने नियामक फाइलिंग को जानकारी देते हुए कहा है कि, "रूचि पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 11 मार्च है। रिलायंस कैपिटल के समाधान योजना को प्रस्तुत करने की आखिरी तारीख 20 अप्रैल है। यह तीसरी बड़ी NBFC है जिसके खिलाफ केंद्रीय बैंक ने हाल ही में दिवाला और दिवालियापन संहिता (IBC) के तहत दिवालियापन की प्रक्रिया शुरू की है। अन्य दो श्रेई ग्रुप NBFC और दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन (DHFL) हैं।"

रिलायंस कैपिटल के बोर्ड को किया था भंग :

खबरों की मानें तो, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 29 नवंबर को रिलायंस कैपिटल के बोर्ड को भंग कर दिया था और अपनी तरफ से बैंक ऑफ महाराष्ट्र के पूर्व कार्यकारी निदेशक नागेश्वर राव को प्रशासक नियुक्त कर दिया था। इसके अगले ही दिन केंद्रीय बैक ने प्रशासक की मदद के लिए एक तीन सदस्यीय पैनल भी गठित कर दिया था। अनिल अंबानी की अगुआई वाली RCLपर कर्ज भुगतान न कर पाने और कंपनी संचालन संबंधी कई गंभीर आरोप हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co