RBI launched ‘MANI’ app for visually challenged
RBI launched ‘MANI’ app for visually challenged|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

इस एप से दृष्टिबाधित लोग भी कर सकेंगे नोट के असली होने की पहचान

अब भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) लेकर आ गया है, नई ‘MANI’ एप। जिसके जरिये आम लोगों के साथ ही दृष्टि बाधित लोग भी नोट के असली होने की पहचान कर सकेंगे।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • भारतीय रिजर्व बैंक लेकर आ गया है ‘MANI’ एप

  • दृष्टि बाधित लोग भी कर सकेंगे नोट के असली होने की पहचान

  • यह बिना इंटरनेट के भी करेगा कार्य

  • RBI ने अपने ट्विटर अकाउंट द्वारा एप की जानकारी दी

राज एक्सप्रेस। कई बार आपने किसी को 500-2000 का नोट देते समय ध्यान दिया होगा कि, वो उस नोट को हवा में उठा कर असली-नकली की पहचान करता है। जबकि, वो देख सकते हैं, सोचिये, कि जो लोग देख नहीं सकते अर्थात दृष्टिबाधित हैं वो नोट के असली होने की पहचान कैसे कर सकेंगे? कई बार इस तरह के लोग सही से पहचान न कर पाने के कारण धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं। इन सब मुश्किलों से छुटकारा दिलाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) लेकर आ गई है एक ऐसी एप जिसके द्वारा दृष्टि बाधित लोग आसानी से नोट की पहचान कर सकेंगे।

क्या है इस ऐप का नाम :

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने लगभग लाखों की संख्या में देश में उपस्थित दृष्टिबाधित (Visually Challenged) लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए एक ऐसी मोबाइल ऐप लांच की है जिसके द्वारा ऐसे लोग आसानी से नोटों की पहचान कर सकें, RBI ने यह एप ‘MANI’ (मनी) नाम से लॉन्च की है। इस एप के द्वारा बहुत आसानी से मार्केट में चलन में उपलब्ध 10, 20, 50, 100, 200, 500 और 2,000 रुपए के नोट की पहचान की जा सकती है। इस एप की खासियत यह है कि, यह बिना इंटरनेट (ऑफलाइन) के भी कार्य करेगा। RBI ने यह जानकारी अपने ट्विटर अकाउंट द्वारा दी।

कैसे करेगा काम :

  • स्टेप 1 : प्ले स्टोर से मनी एप को डाउनलोड करें।

  • स्टेप 2 : एप में दिए गए कैमरे के जरिये नोट को स्कैन करें।

  • स्टेप 3 : नोट स्कैन होते ही एप स्वयं हिंदी और अंग्रेजी दोनों में बोल कर बता देगा कि, नोट कितने का है। यदि ऐप द्वारा सही बोला गया तो समझ लीजिये नोट असली है।

नोट : यह एप एंड्रॉयड और आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम्स (IOS) दोनों के लिए है।

‘इंटाग्लियो प्रिंटिंग’ चिह्न :

किसी भी नोट की पहचान करने के लिए नेत्रहीन लोगों की मदद के लिए इस एप में ‘इंटाग्लियो प्रिंटिंग’ चिह्न उपलब्ध है। यह प्रिंटिंग पर आधारित एक तरह के पहचान चिह्न होते हैं। जिन्हें छू कर समझा जा सकता है। बताते चलें कि इस तरह का चिह्न 100 रुपये से लेकर उससे ऊपर के सभी नोटों में उपलब्ध हैं। नॉट में यह चिन्ह ऐसे लोगों के लिए बहुत जरूरी है जो देख नहीं सकते।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co