RBI दे सकता Repo Rate में बढ़त दर्ज कर झटका
RBI दे सकता Repo Rate में बढ़त दर्ज कर झटकाKavita Singh Rathore -RE

RBI दे सकता Repo Rate में बढ़त दर्ज कर झटका, CPI बैठक के बाद होगा फैसला

अमेरिका के सेंट्रल बैंक फेड रिजर्व ने लगातार तीसरी बार ब्याज दर में बढ़ोतरी की है, तो ऐसा माना जा रहा है कि, अब RBI द्वारा भी Repo Rate में बढ़त दर्ज की जाएगी।

राज एक्सप्रेस। जहां, पिछले दो साल एक तरफ पूरी दुनिया कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से परेशान रही। वहीं, भारत कोरोना के साथ ही आर्थिक मंदी से भी जूझता नजर आया है। हालांकि, उस दौरान लगभग सभी देशों का हाल एक जैसा ही था। इसी बीच देश में लगातार बढ़ती महंगाई को ध्यान में रखते हुए महंगाई की चुनौती से निपटने का फार्मूला बताते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर ने रेपो रेट (Repo Rate) की दर को बढ़ाने का ऐलान किया था। वहीं, अब ऐसा माना जा रहा है कि, जल्द ही Repo Rate फिर से बढ़ाई जा सकती है।

Repo Rate में बढ़त की आशंका :

दरअसल, कोरोना काल के दौरान भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने लगातार लगभग 11 बार Repo Rate बढ़ाकर भारतवासियों को बड़ी राहत दी थी, लेकिन अब जब अमेरिका के सेंट्रल बैंक फेड रिजर्व ने लगातार तीसरी बार ब्याज दर में बढ़ोतरी की है तो ऐसा माना जा रहा है कि, अब RBI द्वारा भी Repo Rate में बढ़त दर्ज की जाएगी। इतना ही नहीं अब तो ऐसा भी माना जा रहा है की दुनियाभर के देश एक बार फिर आर्थिक मंदी का सामना करने वाले है। बता दें, यदि RBI मंहगाई पर काबू पाने के लिए Repo Rate बढ़ाता है तो, यह लगातार चौथी बार Repo Rate में बढ़त दर्ज होगी। हालांकि, इस मामले में अभी ऐसा माना जा रहा है कि, कोई भी फैसला यूएस फेडरल रिजर्व समेत अन्य देशों के केंद्रीय बैंकों की भी राय लेने के बाद ही लिया जाएगा।

पिछली तीन बार दर्ज हुई बढ़त :

बताते चलें, मई के महीने में आखिरी बार भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा Repo Rate में बढ़त दर्ज की गई थी। उस समय Repo Rate में 140 बेसिक पॉइंट्स (bps) की बढ़त दर्ज हुई थी। उससे पहले की अगर 2 बार और की बात की जाए तो, RBI ने Repo Rate में मई में 40 बेसिक पॉइंट्स और जून व अगस्त में 50 बेसिक पॉइंट्स की बढ़ोतरी की थी। इस प्रकार वर्तमान समय में Repo Rate 5.4% है। इस मामले में एक्सपर्ट्स का कहना है कि, 'केंद्रीय बैंक (RBI) इसे अब 50 बेसिक पॉइंट्स की वृद्धि के साथ तीन वर्षों में उच्च स्तर (5.9%) पर पहुंचा सकता है।'

फेडरल रिजर्व द्वारा की गई है बढ़त :

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा हाल ही में महंगाई पर नियंत्रण लाने के मकसद से ब्याज दरों में 0.75% बढ़ाने की घोषणा की है। लगातार तीसरी बार वृद्धि के बाद बैंक का बेंचमार्क फंड दर बढ़कर 3% से बढ़कर 3.25% हो गया है। गौरतलब है कि, बुधवार से तीन दिन तक RBI गवर्नर के नेतृत्व में मौद्रिक नीति समिति (CPI) की तीन दिवसीय बैठक शुरू होने वाली है। इस बैठक के फैसले की घोषणा शुक्रवार 30 सितंबर को होनी है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co