RBI Will Reduce Repo Rate
RBI Will Reduce Repo Rate|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

आर्थिक झटके बर्दाश्त करने के लिए RBI जल्द ही ले सकता है बड़ा फैसला

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते भारत को लगने वाले आर्थिक झटके को बर्दाश्त करने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) जल्द ही एक बड़ा फैसला ले सकता है। जानिए, क्या होगा RBI का बड़ा फैसला।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। पूरी दुनिया कोरोना के कहर से लड़ती और निपटने के उपाय ढूंढती नजर आ रही है। ऐसे में फिच सॉल्युशंस ने बताया कि, कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते भारत को लगने वाले आर्थिक झटके को बर्दाश्त करने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) जल्द ही एक बड़ा फैसला ले सकता है।

RBI का बड़ा फैसला :

कोरोना वायरस जैसी महामारी से भारत की अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) 1 अप्रैल, 2020 से शुरू होने वाले वित्त वर्ष के लिए प्रमुख ब्याज दरों में 175 आधार अंकों में कटौती कर सकता है। यदि ऐसा होता है तो RBI ब्याज दरों में 1.75% तक कटौती करेगा। बता दें कि, कटौती का यह आंकड़ा RBI द्वारा पहले की गई कटौतियों का 40 आधार अंक के अनुमान से काफी ज्यादा है।

रेटिंग एजेंसी ने बताया :

रेटिंग एजेंसी ने भारत की GDP को लेकर अपना अनुमान जताया है। एजेंसी ने बताया है कि, इस चालू वित्त वर्ष में भारत की GDP में वृद्धि दर 4.9% और 2020-21 में 5.4% तक होने की सम्भावना है। इसके अलावा फिच द्वारा जरी की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि, ‘हमें उम्मीद हैं कि, वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान RBI की प्रमुख नीतिगत दरों में 1.75% तक की कटौती की जा सकती है, जबकि दुनिया भर में कोरोना जैसी महामारी फैलने से पहले यह अनुमान 0.40% बताया गया था। RBI द्वारा उठाये इस कदम से नीतिगत रेपो रेट 3.40% और 3% हो जाएगा। बता दें कि, फिलहाल रेपो रेट 5.15% और 4.75% हैं।

महंगाई से मिलेगी निजात :

फिच सॉल्यूशंस तेल की कीमतें गिरने को लेकर कहा कि तेल की घटी हुई कीमतों के चलते आने वाले कुछ ही महीनों में महंगाई से तो भारत को काफी हद तक निजात मिल सकती है। इसी के साथ फरवरी में आने वाली रबी फसल की पैदावार अच्छी होने से खाद्य आपूर्ति में भी काफी सुधार होने की उम्मीद है। इन सब का सीधा असर खाद्य महंगाई पर पड़ेगा और यह कम हो जाएगी। आपको बता दें कोरोना वायरस के चलते इसी साल मार्च में कच्चे तेल की कीमतें घटकर 30 डॉलर प्रति बैरल तक आ गयी हैं जो पहले 50 डॉलर हुआ करती थीं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co