Reliance Capital के शेयरों की वैल्यू हुई जीरो
Reliance Capital के शेयरों की वैल्यू हुई जीरोSyed Dabeer Hussain - RE

अनिल अंबानी की मुश्किलें बढ़ी, Reliance Capital के शेयरों की वैल्यू हुई जीरो

अनिल अंबानी (Anil Ambani) के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) की मुश्किलें अब बहुत बढ़ चुकी हैं। क्योंकि Reliance Capital कंपनी के शेयरों की वैल्यू अब जीरो हो गई है।

राज एक्सप्रेस। काफी समय से कर्ज के बोझ और विवादों में घिरी अनिल अंबानी (Anil Ambani) के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) की मुश्किलें अब इस कदर बढ़ चुकी हैं कि जिनका हल होना नामुमकिन सा लग रहा है। बता दें, पिछले कुछ समय से कंपनी अपनी दिवालिया प्रोसेस से गुजर रही थी, लेकिन कंपनी को कोई खरीददार नहीं मिल रहा था। कोई भी कंपनी इसे खरीदने को तैयार नहीं थी। वहीं, अब कंपनी की मुश्किलें बहुत ज्यादा बढ़ गई है, क्योंकि Reliance Capital कंपनी के शेयरों की वैल्यू अब जीरो हो गई है।

Reliance Capital की वैल्यू हुई ज़ीरो :

दरअसल, अनिल अंबानी (Anil Ambani) के रिलायंस समूह की कंपनी रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) ने अब अपना कारोबार रोक दिया है। क्योंकि, कंपनी की वैल्यू ज़ीरो हो गई है। हाल यह है कि, कंपनी के डीमैट से सभी शेयर डेबिट कर दिए गए हैं। जबकि, कंपनी में पब्लिक शेयर होल्डिंग 94% से ज्यादा थी। कंपनी के ऐसे हालत के चलते सबसे ज्यादा नुकसान रिटेल निवेशकों को हुआ है। बता दें, बीते साल भारत के केंद्रीय बैंक भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) के खिलाफ दिवालिया समाधान (Insolvency Resolution) की प्रोसेस शुरू करते हुए NCLT का रुख किया था।

Reliance Capital की प्रमोटर :

बता दें, फाइनेंशियल सर्विसेज देने वाली कंपनी Reliance Capital की प्रमोटर रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह है। यह लाइफ, जनरल और हेल्थ इंश्योरेंस में सेवाएं देती रही है। कमर्शियल, होम फाइनेंस, इक्विटी और कमोडिटी ब्रोकिंग जैसे क्षेत्रों में भी इसने सेवाएं दी हैं। Reliance Capital के मिडकैप 50 का हिस्सा रही है। हालांकि, यह कंपनी काफी समय से कर्ज में डूबी थी।

कर्जदाताओं ने की समीक्षा बैठक :

कर्जदाताओं की एक समिति ने कंपनी के रेजॉल्‍यूशन प्रोसेस की समीक्षा बैठक की थी। इस बैठक के बाद कंपनी के लिए बोली लगाने की अंतिम तारीख 29 अगस्त थी। हालांकि, Reliance Capital के अधिग्रहण के लिए इंडसइंड बैंक, अमेरिका की संपत्ति प्रबंधन कंपनी ओकट्री कैपिटल और टॉरेंट ग्रुप छह कंपनियों ने बोली लगाई थी। इस बारे में Reliance Capital ने शेयर बाजार को जानकरी दी है। इसमें कहा गया था कि, 'कंपनी की कर्जदाताओं की समिति की 18वीं बैठक गुरुवार को मुंबई में हुई थी। बैठक में समाधान योजना की समीक्षा की गई।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co