रिलायंस इंडस्ट्रीज को वित्त-वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में हुआ मुनाफा
रिलायंस इंडस्ट्रीज को वित्त-वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में हुआ मुनाफाKavita Singh Rathore -RE

रिलायंस इंडस्ट्रीज को वित्त-वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में हुआ मुनाफा

देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने वित्त-वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही के आंकड़े जारी किए हैं। जिसके अनुसार उन्हें इस साल भी काफी मुनाफा हुआ है।

राज एक्सप्रेस। देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने वित्त-वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही के आंकड़े जारी किए हैं। जिसके अनुसार उन्हें इस साल भी काफी मुनाफा हुआ है। हालांकि, ये कोई नई बात नहीं है। पूरा भारत जनता था कि, उनकी कंपनी ने पिछले साल कोरोना काल के दौरान कितनी कंपनियों के साथ डील फ़ाइनल कर काफी लाभ कमाया था। यह लाभ कंपनी ने अपने Jio प्लेटफॉर्म के जरिये कमाया था।

रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा :

दरअसल, भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वित्त वर्ष 2021-21 की अंतिम तिमाही यानी जनवरी-मार्च 2021 के आंकड़े जारी किए हैं। इन आंकड़ों के अनुसार, कंपनी को इस दौरान 13,227 करोड़ रुपए का लाभ हुआ है। जो कि सालाना आधार पर 53,729 करोड़ रुपए का रिकॉर्ड फायदा हुआ है। इन आंकड़ों में सालाना आधार पर 108.4% और तिमाही आधार पर 1% की बढ़त दर्ज की गई है। जबकि पिछले साल की सामान अवधि की तुलना में कंपनी का लाभ 34.8% ज्यादा है।

लाभांश की घोषणा :

रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा शुक्रवार को अपने वित्तीय आंकड़े जारी कर शेयर मार्केट को जानकारी दी गई। इस जानकारी के अनुसार, कंपनी ने प्रति शेयर 7 रुपए के लाभांश की घोषणा की है। इसके अलावा इस दौरान कंपनी का राजस्व 20.6% बढ़कर 1,01,080 करोड़ रुपए पर जा पहुंचा। जबकि, चौथी तिमाही रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रुप के रेवेन्यू की बात करें तो वो कुल 1 लाख 72 हजार 95 करोड़ रुपए था जो, अब एक साल पहले जनवरी-मार्च की तुलना में 24.9% ज्यादा है। कंपनी के आंकड़े,

  • RIL का शुद्ध फायदा 14,995 करोड़ रुपए रहा जो कि एक साल पहले हुए 6,348 करोड़ की तुलना में 129% ज्यादा है।

  • कंपनी की प्रति शेयर आय इस दौरान 20.5 रुपए रही है।

  • सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज का रेवेन्यू 90 हजार 792 करोड़ रुपए रहा है, जिसमें 27.1% की बढ़त रही है।

  • सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज का शुद्ध मुनाफा 7,617 करोड़ रुपए रहा है, जो 11.7% कम है।

  • कंपनी ने इसी दौरान 46 हजार 406 करोड़ रुपए के मूल्य का सामान निर्यात किया। यह एक साल पहले की इसी अवधि की तुलना में 47% ज्यादा है।

कंपनी का EBITDA :

कंपनी का EBITDA तिमाही आधार पर 16.9 फीसदी की बढ़त के साथ 11407 करोड़ रुपए पर रहा है, लेकिन इस सेगमेंट की EBITDA मार्जिन में 30 बेसिस पॉइंट की कमजोरी देखने को मिली है और यह 11.3 फीसदी पर रही है।

कंपनी के चेयरमैन का कहना :

कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने इस मौके पर कहा, "हमने ओ 2 सी और रिटेल सेगमेंट में मजबूत रिकवरी और डिजिटल सेवाओं के कारोबार में मजबूत वृद्धि दर्ज की है। चौथी तिमाही में कंपनी के ऑयल टू केमिकल कारोबार की आय में तिमाही आधार पर 2.6 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है और यह 10108 करोड़ रुपए पर रही है।"

कंपनी ने बताया :

कंपनी ने बताया कि, इसके पूरे ग्रुप का कुल रेवेन्यू साल भर में 5 लाख 39 हजार 238 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले की तुलना में इसमें 18.3 पर्सेंट की बढ़त रही है। प्रति शेयर आय 76.4 रुपए रही है जिसमें 21.1 पर्सेंट की बढ़त रही है। केवल रिलायंस इंडस्ट्रीज की बात करें तो इसका रेवेन्यू 2 लाख 78 हजार 940 करोड़ रुपए रहा है। यह एक साल पहले की तुलना में 23.8 पर्सेंट कम है। शुद्ध फायदा 31,944 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले की तुलना में यह 3.4 पर्सेंट ज्यादा रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co