कुछ इस प्रकार रही दिसंबर 2021 में 'रिटेल महंगाई दर'
कुछ इस प्रकार रही दिसंबर 2021 में 'रिटेल महंगाई दर' Social Media

कुछ इस प्रकार रही दिसंबर 2021 में 'रिटेल महंगाई दर'

लॉकडाउन के हटते ही सभी सेक्टरों की कंपनियों ने एक बार फिर रफ़्तार पकड़ने के लिए ने अपनी वस्तुओं और सेवाओं की कीमतें बढ़ा दी। इसका नतीजा है, दिसंबर महीने में देश के रिटेल महंगाई दर में बढ़त दर्ज की गई है।

राज एक्सप्रेस। लॉकडाउन के बाद से देश में इकोनॉमी (GDP) के आंकड़े लगातार गिरे। क्योंकि, उस दौरान देश के हर सेक्टर को काफी नुकसान झेलना पड़ा जिसके चलते देश के आर्थिक हालात काफी बिगड़ गए थे, लेकिन लॉकडाउन के हटते ही देश के सभी सेक्टरों ने एक बार फिर रफ़्तार पकड़ना शुरू कर दिया था। हालांकि इस दौरान कंपनियों ने अपनी वस्तुओं और सेवाओं की कीमतें बढ़ा दी। इसी का नतीजा है कि, दिसंबर महीने में देश के रिटेल महंगाई दर में बढ़त दर्ज की गई है।

दिसंबर की में रिटेल महंगाई दर :

दरअसल, पछले साल के दिसंबर महीने में रिटेल महंगाई दर में बढ़त दर्ज की गई और यह बढ़कर 5.59% पर जा पहुंची है। जबकि, नवंबर में ये बढ़त 4.91% की थी। इतना ही नहीं इसके अलावा खाने-पीने के प्रॉडक्ट की कीमतें बढ़ने के कारण भी महंगाई दर का बढ़ना ही है। इसके अलावा नवंबर 2021 में इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (IIP) की ग्रोथ देखी जाए तो यह आंकड़ा 1.4% का रहा है। जबकि, पिछले साल नवंबर 2020 में IIP की ग्रोथ दर 1.6% थी। वहीं, अक्टूबर की बात करें तो तब IIP की ग्रोथ दर 3.2% थी। इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (IIP) के आंकड़े भी बुधवार को जारी किए गए हैं।

RBI के कम्फर्ट जोन में हैं आंकड़े :

बताते चलें, महंगाई दर के जारी किए गए आंकड़े फ़िलहाल भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के कम्फर्ट जोन में बने हुए बताये जा रहे हैं। क्योंकि, RBI की महंगाई दर को 4% (प्लस या माइनस 2%) पर बनाए रखने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। इसके अलावा महीने-दर महीने के आधार पर महंगाई दर की बात की जाए तो,

  • दिसंबर में फूड इन्फ्लेशन (Food inflation) बढ़कर 4.05% हो गई, जो कि, नवंबर में 1.87% पर थी।

  • वेजिटेबल इन्फ्लेशन (Vegetable inflation) महीने-दर-महीने के आधार पर दिसंबर में - 2.99% रही। जो जो कि, नवंबर में -13.62% पर थी।

  • क्लोदिंग एंड फुटवेयर इन्फ्लेशन (Clothing and footwear inflation) दिसंबर में 7.94% के मुकाबले 8.3% पर रही।

  • पल्सेज इन्फ्लेशन (Pulse inflation) नवंबर में 3.18% थी यह दिसंबर में घटकर 2.43% पर पहुंच गई है।

  • दिसंबर में फ्यूल एंड लाइट इन्फ्लेशन (Fuel and light inflation) 10.95% पर रही जो नवंबर में 13.35% पर थी।

  • हाउसिंग इन्फ्लेशन (Housing inflation) दिसंबर में 3.66% के मुकाबले 3.61% रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.