RIL ने बनाई Invit और debt के जरिए फंड जुटाने की योजना

रिलायंस इंडस्ट्रीज अपनी Giga Fiber Optic Network सब्सिडियरी के लिए फंड जुटाने की तैयारी में लग गई है। जिसे कंपनी ने फंड इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट ट्रस्ट (Invit) के जरिए जुटाने की योजना बनाई है।
RIL ने बनाई Invit और debt के जरिए फंड जुटाने की योजना
RIL plans to raise funds through Invit and debtSocial Media

राज एक्सप्रेस। लॉकडाउन के समय से मुकेश अंबानी की कंपनी 'रिलायंस इंडस्ट्रीज' अपने Jio प्लेटफॉर्म के माध्यम से लगातार एक के बाद एक कंपनियों के साथ डील फ़ाइनल करती आई है। इतना ही नहीं इसी साल में कंपनी ने खुद को कर्ज मुक्त कर कई अचीवमेंट हासिल किए हैं। वहीं, कंपनी अपनी Giga Fiber Optic Network सब्सिडियरी के लिए फंड जुटाने की तैयारी में लग गई है। जिसे कंपनी ने इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट ट्रस्ट (Invit) के जरिए जुटाने की योजना बनाई है।

फंड जुटाने में जुटी रिलायंस इंडस्ट्रीज :

दरअसल, कई अचीवमेंट हासिल करने के बाद कंपनी एक नए प्रोजेक्ट पर काम कर रही है। इस प्रोजेक्ट के तहत कंपनी इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट ट्रस्ट (Invit) के जरिए करीबन 40 हजार करोड़ रुपए का फंड जुटाकर अपने Giga Fiber Optic Network सब्सिडियरी में लगाएगी। साथ ही इस डील के तहत कंपनी अपने ट्रस्ट की हिस्सेदारी बेचेगी और मार्केट से कर्ज भी लेगी। इस बारे में कंपनी ने SEBI को जानकारी दी।

SEBI को दी गई जानकारी :

कंपनी द्वारा SEBI को दी गई जानकारी में बताया गया है कि, इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट ट्रस्ट (Invit) का 51% भाग डिजिटल फाइबर इंफ्रास्ट्रक्चर ट्रस्ट और 48.44% भाग RIL के पास है। रिलायंस इंडस्ट्रीज 14,700 करोड़ रुपए जुटाने के लिए 147.06 करोड़ यूनिट जारी करेगी। इसके तहत एक यूनिट की कीमत 100 रुपए तय की जाएगी। इस योजना के आधार पर कंपनी की योजना DFIT डेट के माध्यम से 25 हजार करोड़ रुपए जुटाने की है। इस फंड का इस्तेमाल कंपनी फाइबर ऑप्टिक के लिए करेगी।

Jio प्लेटफॉर्म के जरिए जुटाए 1.52 लाख करोड़ रूपये :

कंपनी ने SEBI को बताया कि, Jio डिजिटल फाइबर प्राइवेट लिमिटेड में रिलायंस इंडस्ट्रीज की हिस्सेदारी 48.4% की है। बताते चलें, इससे पहले भी रिलायंस इंडस्ट्रीज अपने Jio प्लेटफॉर्म के जरिए कई बड़ी कंपनियों के साथ डील करके अपनी 33% हिस्सेदारी बेच चुकी है। इस हिस्सेदारी को बेच कर कंपनी ने 1.52 लाख करोड़ रूपये (20 बिलियन डॉलर) फंड जुटाया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co