sharad pawar and Gautam Adani
sharad pawar and Gautam AdaniRaj Express

AI प्रोजेक्ट के लिए 25 करोड़ रु. दिए तो एनसीपी सुप्रीमो ने की कारोबारी गौतम अडाणी की तारीफ

एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने एआई आधारित एक प्रौद्योगिकी केेंद्र स्थापित करने के लिए 25 करोड रुपए आर्थिक सहायाता देने के लिए गौतम अडाणी की सराहना की है।

हाईलाइट्स

  • विपक्षी नेता सत्ता से निकटता का आरोप लगाकर करते रहे हैं गौतम अडाणी की निंदा।

  • बारामती में विद्या प्रतिष्ठान के इंजीनियरिंग विभाग में शुरू की गई एआई बोटिक लैब ।

  • कार्यक्रम में फिनोलेक्स जे पावर सिस्टम्स के चेयरमैन दीपक छाबरिया भी मौजूद रहे।

राज एक्सप्रेस । नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने एक बार फिर उद्योगपति गौतम अडानी की तारीफ की है। पुणे जिले के बारामती में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) आधारित एक नए प्रौद्योगिकी केंद्र के निर्माण में 25 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता देने के लिए शरद पवार ने देश के मशहूर कारोबारी गौतम अडाणी को धन्यवाद दिया है। यह बात शरद पवार ने बारामती में विद्या प्रतिष्ठान के इंजीनियरिंग विभाग में रोबोटिक लैब के उद्घाटन के दौरान संबोधित करते हुए कही।

उद्घाटन के दौरान फिनोलेक्स जे पावर सिस्टम्स लिमिटेड के चेयरमैन दीपक छाबरिया भी मौजूद थे। कार्यक्रम में शरद पवार ने कहा विद्या प्रतिष्ठान संस्थान ने एक नया एआई प्रोजेक्ट हाथ में लिया है। टेक्नोलॉजी ने इंजीनियरिंग क्षेत्र तेज बदलाव किया है। शरद पवार ने कहा हम देश में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का पहला सेंटर बना रहे हैं। इसका निर्माण कार्य शुरू हो गया है। इस परियोजना पर 25 करोड़ रुपये की लागत आने वाली है। इसके लिए फंड की व्यवस्था हो चुकी है।

उन्होंने कहा मेरी अपील पर हमारे सहयोगियों ने इसमें मदद की। देश में निर्माण क्षेत्र की सबसे महत्वपूर्ण कंपनी फर्स्ट सिफोटेक ने इस परियोजना में 10 करोड़ रुपये की मदद करने का निर्णय किया है। मैं हृदय से उनका आभारी हूं। उन्होंने कहा इस मौके पर कारोबारी गौतम अडाणी का नाम लेना जरूरी है। उन्होंने 25 करोड़ रुपये का चेक संस्था को भेजा है। इन दोनों की मदद से हम आज इस जगह पर दोनों प्रोजेक्ट स्थापित कर रहे हैं। इस पर काम भी शुरू हो गया है।

एनसीपी प्रमुख ने कहा आज देश में मशीन, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक और कम्प्यूटर जानने-समझने वाले मैनपॉवर की जरूरत है। यदि इस बढ़ती मांग को पूरा करना है, तो देश और विदेश दोनों में नई तकनीक वाले कुशल इंजीनियरों की बड़े पैमाने पर आवश्यकता होने वाली है। इन सभी चुनौतियों और अवसरों को देखते हुए विद्या प्रतिष्ठान ने बारामती में चार हजार वर्ग फीट में ग्रामीण क्षेत्र की पहली स्मार्ट फैक्ट्री बनाने का निर्णय लिया है, जिसके लिए काम शुरू कर दिया गया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co