भारतीय रुपया पंहुचा तीन सप्ताह के उच्च स्तर पर
भारतीय रुपया पंहुचा तीन सप्ताह के उच्च स्तर परSocial Media

रूपये में भारी गिरावट, डॉलर की तुलना में पहुंचा सबसे निचले स्तर पर

पिछले कुछ समय से शेयर मार्केट (Share Market) में गिरावट का दौर अभी तक जारी है। हालांकि, बीच में यह काफी हराभरा दिखाई भी दिया था, लेकिन अब इसका असर भारत के रूपये पर पड़ता नजर आ रहा है।

राज एक्सप्रेस। आज पूरे विश्व में सिर्फ एक ही मामले की चर्चा है और वह है यूक्रेन और रूस के बीच चल रहा युद्ध। इस युद्ध के शुरू होने के कुछ दिन पहले से ही यूक्रेन एवं रूस के युद्ध के कारण दुनिया भर के शेयर मार्केट में भारी गिरावट देखने को मिल रही थी और रूस के यूक्रेन पर हमला करने के बाद तो वैश्विक स्तर पर भारी दवाब देखने को मिला था, जो अभी तक देखने को मिल रहा है। क्योंकि, शेयर मार्केट (Share Market) में गिरावट का यह दौर अभी तक जारी है। हालांकि, बीच में यह काफी हराभरा दिखाई भी दिया था, लेकिन अब इसका असर भारत के रूपये पर पड़ता नजर आ रहा है।

रूपये में देखने को मिली भारी गिरावट :

शुरुआत में भले ऐसा लगा हो कि, यह युद्ध कुछ दिन ही चलेगा, लेकिन देखते देखते ही इस युद्ध को आधे साल से ज्यादा का समय हो चला है। इस युद्ध के चलते दुनियाभर के देश नुकसान का सामना कर रहे हैं। इसका असर भारत की करेंसी पर भी पड़ता नज़र आ रहा है। भारत के रुपये में इस कदर गिरावट दर्ज हो रही ही कि, यह डॉलर के मुकाबले अब तक के सबसे निचले स्तर पर आ गया है। इतना ही नहीं आज लगातार दूसरे दिन रुपये में गिरावट दर्ज हुई है। आज शुक्रवार को रूपये की कीमत में 41 पैसे की गिरावट दर्ज हुई और डॉलर के मुकाबले 81.20 के ऑल-टाइम लो पर पहुंच गई थी। जबकि, गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपये में 99 पैसे की गिरावट दर्ज हुई थी। गुरुवार को दर्ज हुई यहगिरावट फरवरी के बाद से सबसे बड़ी सिंगल सेशन पर्सेंटेज गिरावट बताई जा रही है।

रुपया की कीमत :

अमेरिकी डॉलर की तुलना में गुरुवार को रुपया 80.86 रुपये के रिकॉर्ड लो पर बंद हुआ था। जबकि, बुधवार को रुपया का स्तर 79.97 पर था। आज यानि शुक्रवार को डॉलर इंडेक्स देंखे तो यह 111.35 के स्तर पर लगभग फ्लैट रहा, जो कि, दो दशक के अपने हाई 111.81 के पास बताया गया। यदि एशियन करेंसीज देखे तो, गुरुवार को रुपया सबसे ज्यादा गिरावट वाली करेंसीज में रहा।

एनालिस्ट्स का कहना :

रूपये में दर्ज हुई गिरावट को लेकर एनालिस्ट्स का कहना है कि, 'रुपये में और गिरावट देखने को मिल सकती है। CR फॉरेक्स ए़डवायजर्स ने एक नोट में कहा है कि शॉर्ट टर्म में रुपया नए लो को टेस्ट कर सकता है। हमारा मानना है कि आने वाले समय में रुपया 81.80 से 82 रुपये तक जा सकता है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co