Dollar जैसे प्रभाववाली अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा बनेगा रुपया, 18 देशों ने भारतीय मुद्रा में कारोबार पर जताई सहमति

कारोबार में रुपए की धमक लगातार बढ़ रही है। आरबीआई ने पिछले साल जुलाई में रुपए में क्रॉस बॉर्डर ट्रेड को लेकर दिशा निर्देश जारी किए थे, उसके बाद से 18 देशों ने रुपए में कारोबार की इच्छा जताई है।
Indian currency
Indian currencySocial Media

राज एक्सप्रेस। यह संतोषजनक बात है कि अंतर्राष्ट्रीय कारोबार में भारतीय रुपए धमक लगातार बढ़ रही है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने पिछले साल जुलाई में भारतीय रुपए में क्रॉस बॉर्डर ट्रेड ट्रांजैक्शन को लेकर दिशा निर्देश जारी किए थे, उसके बाद से दुनिया के 18 देश भारत के साथ रुपए में कारोबार करने पर विचार कर रहे हैं। भारतीय मुद्रा के इस बढ़ते जलवे की वजह से रूपए को जल्दी ही इंटरनेशनल करेंसी का दर्जा हासिल हो सकता है। वैश्विक कारोबार में अब तक डॉलर का ही जलवा दिखाई देता है। दुनिया के अधिकतर देश एक दूसरे से सामान खरीदने बेचने के लिए डॉलर का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन हाल के दिनों में कई देशों ने रुपए में लेनदेन करने की बात कही है, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि जल्दी ही अंतर्राष्ट्रीय कारोबार में भारतीय रुपए की धमक सुनाई देगी और डालर का जलवा घटेगा।

आरबीआई ने वोस्ट्रो अकाउंट को दी मंजूरी

हाल के दिनों में दुनिया के कई देशों ने इंटरनेशनल ट्रेड के लिए रुपए का इस्तेमाल करने में दिलचस्पी दिखाई है। उन्होंने इसके सेटलमेंट की प्रक्रिया को और आसान बनाने की मांग की है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने हाल ही में 60 स्पेशल रूपी वोस्ट्रो अकाउंट बनाने की मंजूरी दे दी है। इसका मतलब है कि अब जल्दी ही रूस और श्रीलंका जैसे देशों के साथ रुपए में इंटरनेशनल ट्रेड हो सकेगा। भारत के वित्त राज्य मंत्री भागवत कराड़ ने संसद में बताया है कि भारत के केंद्रीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने घरेलू और विदेशी एडी के रूप में वोस्त्रो अकाउंट खोलने की मंजूरी दे दी है। वोस्त्रो अकाउंट खोलने के बाद दुनिया के 18 देशों से भारत का करोबार डालर की जगह रुपए में किया जा सकेगा।

रूस रुपए में ट्रेड करने को सबसे ज्यादा इच्छुक

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने बताया इंटरनेशनल ट्रेड में डॉलर की जगह रुपए को बढ़ावा देने के मामले में रूस सबसे आगे है। वित्त मंत्री ने बताया कि भारत ने निर्यात बढ़ाने के लिए लोकल करेंसी में ट्रेड को बढ़ावा देने की कई योजनाएं तैयार की है। भारत के साथ रुपए में ट्रेड करने में जिन देशों ने दिलचस्पी ली है, उनमें रूस, सिंगापुर, श्रीलंका, वोत्स्वाना, फ़िजी, इसराइल, केन्या, मलेशिया, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, ओमान और ब्रिटेन जैसे देश शामिल हैं। पिछले कुछ समय में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार को भारतीय रुपए में सेटल करने का फ्रेमवर्क तेजी से विकसित किया जा रहा है। दुनिया के 18 देशों का इसमें दिलचस्पी लेना दिखाता है कि रुपए की धमक लगातार बढ़ रही है। पिछले 6 महीने में दुनिया के 8 देशों ने 50 स्पेशल रूपी वोस्त्रो अकाउंट खोला है। इस तरह का कारोबार करने वाले देश नई मशीनरी की तरह के तहत अधिकृत बैंक के साथ भारत में वोस्त्रो अकाउंट खोल सकते हैं और अपने देश के बैंक के साथ ट्रेडिंग कर सकते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co