SBI द्वारा BPLR बढ़ाने से महंगे हो गए बैंक के सभी लोन
SBI द्वारा BPLR बढ़ाने से महंगे हो गए बैंक के सभी लोनSyed Dabeer Hussain - RE

SBI द्वारा BPLR बढ़ाने से महंगे हो गए बैंक के सभी लोन

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) की लोन पर मिलने वाले ब्याज की दरों में इजाफा किया गया है।बैंक ने ग्राहकों को बड़ा झटका दे दिया है। जी हां SBI ने BPLR को बढ़ा कर ग्राहकों को झटका दिया है।

राज एक्सप्रेस। यदि आप किसी भी कारण से किसी भी तरह का लोन लेने का मन बना रहे हैं और यदि आपका अकाउंट सार्वजनिक क्षेत्र के स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) में है तो, जरा ध्यान दें यह खबर हो सकती है आपके काम की। खबर यह है कि, अब आपको SBI से लोन लेना पड़ सकता है महंगा, क्योंकि, भारत के सरकारी सेक्टर के देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) की लोन पर मिलने वाले ब्याज की दरों में इजाफा किया गया है। इससे ग्राहकों को बड़ा झटका लगा है। जी हां SBI ने BPLR को बढ़ा कर ग्राहकों को झटका दिया है।

SBI ने बढ़ाई BPLR की दरें :

दरअसल, भारत के सरकारी सेक्टर के देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) ने अपने ग्राहकों को एक बड़ा झटका दिया है। क्योंकि, अब ग्राहकों को SBI से ऑटो लोन और होम लोन लेना महंगा पड़ेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि बैंक ने बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (BPLR Rate) में बढ़ोतरी कर दी है। इसके बाद ग्राहकों को हर तरह के लोन पर लगने वाली ब्याज दरों के लिए ज्यादा भुगतान देना पड़ेगा। बैंक की नई दरें आज गुरुवार यानी 15 सितंबर 2022 से लागू हो चुकी हैं। जानकारी देते हुए बैंक ने कहा है कि, 'बैंक ने फंड की बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (BPLR) में 70 बेसिस पॉइंट या 0.7 % की बढ़ोतरी की है। यह फैसला आज से लागू हो चुका है।'

SBI की नई दरें :

त्यौहारों के सीजन में यदि आप कार या घर खरीदने के लिए SBI से लोन लेने का मन बना रहें हैं तो, अब आपको यह महंगा पड़ेगा क्योंकि, SBI के 'बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट' (BPLR) में बढ़ोतरी होने से बैंक के सभी तरह के लोन महंगे हो गए है। इस बढ़त के बाद SBI की नई दरों के तहत BPLR अब 13.45% पर पहुंच गया है। SBI का BPLR महंगा होने से नए और पुराने दोनों ही ग्राहकों की EMI में ज्यादा पैसा देना होगा। यानी लोन री-पेमेंट और ज्यादा देना होगा। बैंक द्वारा बढ़ाई गई इन दरों का असर सबसे ज्यादा असर होम और कार लोन लेने वाले ग्राहकों पर पड़ेगा।

जानकारों का कहना :

जानकारों का कहना है कि, 'SBI ने यह बढ़ोतरी की मौद्रिक पाॅलिसी में रेपो रेट में बढ़ोतरी की पूरी संभावना को देखते हुए किया है। सितंबर की मौद्रिक पाॅलिसी में आरबीआई रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर सकता है। खुदरा महंगाई में उछाल के बाद रेपो रेट में बढ़ोतरी की संभावना और बढ़ गई है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co