SBI Profits increased during lockdown
SBI Profits increased during lockdown |Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

SBI ने जारी किए लॉकडाउन की अवधि के आंकड़े, मुनाफे में हुई वृद्धि

देश में कोरोना के मामलों के तेजी से बढ़ने को देखते हुए लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान भारत के सबसे बड़े सरकारी सेक्टर के बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का मुनाफा भी काफी अधिक बढ़ा है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। देश में कोरोना के मामलों के तेजी से बढ़ने को देखते हुए लागू किए गए लॉकडाउन के चलते लगभग सभी कार्यलय बंद रहे। जिससे लगभग सभी सेक्टरों को नुकसान उठाना पड़ा। हालांकि, इस दौरान सभी बैंकों में रेगुलर कार्य हो रहा था। इस दौरान भारत की प्राइवेट सेक्टर की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी का मुनाफा लगातार बढ़ा है। वहीं इसके साथ ही भारत के सबसे बड़े सरकारी सेक्टर के बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का मुनाफा भी काफी अधिक बढ़ा है।

SBI का मुनाफा :

दरअसल, लॉकडाउन का बैंकिंग सेक्टर पर भी काफी बुरा असर पड़ा है। RBI के अनुसार, इस दौरान बैड लोन में भी काफी बढ़त हुई है। परंतु इसके बाबजूद भी इस दौरान भारत के सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के नुमाफे में 81% की बृद्धि हुई है। जी हां, बैंक को वित्त वर्ष 2020 के अप्रैल से जून माह के बीच में बैंक के लाभ में 81% की बढ़ोतरी हुई और यह लाभ 4,189.34 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। बता दें, SBI बैंक ने हाल ही में चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के आंकड़े जारी किए हैं। बताते चलें, पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के दौरान बैंक को 2,312.02 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

SBI की कुल आय :

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के दौरान SBI बैंक की कुल आय 74,457.86 करोड़ रुपये पर रही। जो कि, पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के दौरान 70,653.23 करोड़ रुपये थी।

SBI को कैसे हुआ लाभ :

इस दौरान लगभग सभी बैंकों का बैड लोन बढ़ा है। परंतु ऐसे में SBI का काफी डूबा हुआ कर्ज घटा है जिससे बैंको को यह मुनाफा हुआ है। बताते चलें, SBI का पहली तिमाही के दौरान NPA घटकर 5.44% रह गया है। जबकि, पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह NPA 7.53% था। वहीं, SBI का मुनाफा बढ़ने से बैंक के शेयरों में भी तेजी देखने को मिली है। बैंक के आंकड़े जारी होने के बाद बैंक के शेयर 191.45 रुपये पर जाकर बंद हुए। बताते चलें, एक दिन पहले के मुकाबले 2.63% की बढ़त है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co