NSE
NSERaj Express

NSE पर WTI क्रूड ऑयल व नेचुरल गैस फ्यूचर्स पर ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट शुरू करने के लिए सेबी ने दी मंजूरी

एनएसई 9 अक्टूबर से कमोडिटी डेरिवेटिव सेगमेंट में एनवाईएमईएक्स डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल और नेचुरल गैस फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट्स को लेकर ​ऑप्शंस लॉन्च करेगा।

हाईलाइ्ट्स

  • यूजर्स को कमोडिटी रिस्क मैनेज करने का बेहतर तरीका प्रदान करने के लिहाज से तैयार किए गए हैं कॉन्ट्रैक्ट्स

  • एनएसई पर 9 अक्टूबर से ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध होंगे एनवाईएमईएक्स डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल ल नेचुरल गैस फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट्स से जुड़े आप्शंस

  • फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स पर विकल्प जोड़ने से ओवरऑल कमोडिटी सेगमेंट में एनएसई की प्रोडक्ट ऑफरिंग को मिलेगा और बढ़ावा

राज एक्सप्रेस। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) 9 अक्टूबर से अपने कमोडिटी डेरिवेटिव सेगमेंट में न्यूयॉर्क मर्केंटाइल एक्सचेंज (एनवाईएमईएक्स) डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल और नेचुरल गैस फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट्स को लेकर ​ऑप्शंस लॉन्च करेगा। नेशनल स्टाक एक्सचेंज ने अपने एक सर्कुलर में बताया है कि एक्सचेंज को अंडरलाइंग डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल और नेचुरल गैस फ्यूचर्स पर ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट्स शुरू करने के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) से मंजूरी मिल गई है। एनएसई के बयान में बताया गया है कि कॉन्ट्रैक्ट्स 9 अक्टूबर से ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध होंगे।

पहले 16 अक्टूबर को होनी थी लांचिंग, अब नौ को होगी

ज्ञात हो कि इससे पहले 26 सितंबर को एक्सचेंज ने इस लॉन्चिंग की तिथि 16 अक्टूबर घोषित की थी। बाद में लांचिंग की तिथि को और नजदीक लाते हुए 9 अक्टूबर कर दिया गया। एनएसई ने इसके पहले मई में अपने कमोडिटी डेरिवेटिव सेगमेंट में रुपये-मूल्यवर्ग वाले एनवाईएमईएक्स डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल और नेचुरल गैस फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स पेश किए थे। एनएसई पर डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल और नेचुरल गैस फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स में बाजार के सहभागियों से सकारात्मक प्रतिक्रिया देखने में आ रही है। लॉन्च के बाद से विभिन्न क्षेत्रों में 100 से अधिक ट्रेडिंग मेंबर्स ने इन कॉन्ट्रैक्ट्स में लेनदेन किया है।

एनएसई की प्रोडक्ट आफरिंग को मिलेगा बढ़ावा

उल्लेखनीय है कि डब्ल्यूटीआई, न्यूयॉर्क मर्केंटाइल एक्सचेंज (एनवाईएमईएक्स) के ऑयल फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स की अंडरलाइंग या आधारभूत कमोडिटी है। इसके अलावा, कच्चे तेल के डेरिवेटिव (ब्रेंट और डब्ल्यूटीआई), कमोडिटी डेरिवेटिव क्षेत्र में सबसे अधिक ट्रेड होने वाले प्रोडक्ट हैं। फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट्स पर विकल्प जोड़ने से ओवरऑल कमोडिटी सेगमेंट में एनएसई की प्रोडक्ट ऑफरिंग को और भी अधितक बढ़ावा मिलेगा। एनएसई ने कहा कि ये कॉन्ट्रैक्ट्स बाजार में यूजर्स को अपने कमोडिटी रिस्क को मैनेज करने का ज्यादा बेहतर तरीका प्रदान करने के लिहाज से तैयार किए गए हैं।

एनएसई ने अगस्त में जोड़े 8 लाख एक्टिव यूजर्स

एनएसई ने 2023 के अगस्त माह में 8 लाख से अधिक एक्टिव यूजर्स को जोड़ा था। इससे प्लेटफॉर्म पर कुल यूजर्स की संख्या बढ़कर 3.27 करोड़ हो गई है। एक्सचेंज के आंकड़ों के अनुसार अगस्त माह में एक्टिव यूजर्स की संख्या 3.27 करोड़ थी, जो जुलाई के 3.19 करोड़ यूजर्स के आंकड़े से 2.5 प्रतिशत अधिक है। इस अवधि में 8.02 लाख यूजर्स बढ़े हैं। नेशनल स्टाक एक्सचेंज यानी एनएसई के कुल एक्टिव यूजर्स में टॉप-5 डिस्काउंट ब्रोकरों की हिस्सेदारी 60.8 प्रतिशत है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co