Divya Mittal
Divya MittalRaj |Express

संकल्प से मिलती है सफलता, यूपीएससी में 68 वीं रैंक हासिल करने वाली दिव्या ने साझा किया सफलता का मंत्र

सफलता लगातार परिश्रम और दृढ़ संकल्प से मिलती है। आईएएस अधिकारी दिव्या मित्तल ने बताया यूपीएससी क्लियर करने के लिए मन लगाकर पढ़ाई करना जरूरी है।

राज एक्सप्रेस । सफलता लगातार परिश्रम और दृढ़ संकल्प से मिलती है। यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा देने वाला प्रत्येक प्रत्याशी यह रहस्य जानता है कि अपना ध्यान केंद्रित रखते हुए पढ़ाई करना कितना महत्वपूर्ण होता है। हालांकि, इसे साधना आसान काम नहीं है। दिव्या मित्तल, भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की अधिकारी हैं, जिन्होंने भारी चुनौतियों के बावजूद इन्हीं गुणों को अपनाते हुए देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक यूपीएससी परीक्षा पास की है। यूपीएससी ही नहीं, इससे पहले उन्होंने आईआईटी और आईआईएम जैसी कई अन्य कठिन परीक्षाएं भी पास करने में सफलता हासिल की।

2012 में हासिल की यूपीएससी में 68वीं रैंक

आईएएस अधिकारी दिव्या मित्तल ने 2012 यूपीएससी सीएसई में ऑल इंडिया रैंक 68 हासिल की। यूपीएससी से पहले, वह आईआईटी और आईआईएम जैसी प्रतिस्पर्धी परीक्षाएं पास कर चुकी थीं। उन्होंने प्रतिष्ठित आईआईटी दिल्ली से अपनी इंजीनियरिंग डिग्री हासिल की। बाद में, उन्होंने आईआईएम बेंगलुरू से एमबीए किया। दिव्या मित्तल के अनुसार, अपने लक्ष्य प्राप्त करने और आईआईटी, आईआईएम, और यूपीएससी की तैयारी को प्राथमिकता देने के लिए, व्यक्ति को प्रतिबद्ध और समर्पित रहना चाहिए। उन्होंने ट्विटर पर कुछ सुझाव साझा किए हैं, जो उनकी यूपीएससी, आईआईटी, आईआईएम, और अन्य संस्थानों की प्रवेश परीक्षाओं में सफलता के लिए जरूरी हैं।

दिव्या ने बताया कैसे पास करें यह चुनौतीभरी परीक्षा

उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर की जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) ने माना कि अध्ययन के दौरान अपना ध्यान बनाए रखना आसान काम नहीं है, लेकिन उन्होंने अपने खुद के उपायों से इस पर काबू पाया। उन्होंने कहा मोबाइल विचलन की एक प्रमुख वजह है। यह पढ़ाई के समय सबसे अधिक ध्यान भटकाता है। अधिकांश लोग विभिन्न मोबाइल ऐप्स का उपयोग करते हुए इतने खो जाते हैं कि उन्हें समय का भान ही नहीं रहता। उन्होंने सलाह दी कि मोबाइल उपयोग कम से कम किया जाना चाहिए।

इंटरनेट चालू रहा तो नहीं लगेगा पढ़ाई में मन

उन्होंने सुझाव दिया कि इंटरनेट को एकदम बंद कर दीजिए और फोन को एक ओर रख दीजिए। तभी पढ़ाई में ठीक से मन लगाया जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने सुझाव दिया कि ध्यान करना पढ़ाई के लिए बेहद उपयोगी है, इसे पढ़ाई करने वाले युवाओं को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। इसके साथ ही आलाप ध्वनियों का भी उपयोग किया जाना चाहिए, जो 40 हर्ट्ज़ की आवृत्ति पर हों। इससे भी आपको ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलेगी। किसी एक चीज पर मन केंद्रित करने में ध्यान बेहद सहायक है। इसकी आपकी धारणा शक्ति भी बढ़ती है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co