UPI ट्रांजैक्शंस को लेकर Google, Amazon और WhatsApp को SC का नोटिस

सुप्रीम कोर्ट द्वारा Google, Amazon और Facebook की WhatsApp जैसी बहुचर्चित कंपनियों को नोटिस जारी किया गया हैं। बता दें, इन सभी कंपनियों के खिलाफ याचिका दायर की गई थी।
UPI ट्रांजैक्शंस को लेकर Google, Amazon और WhatsApp को SC का नोटिस
Supreme court issues notice for Google, Amazon and WhatsAppSocial Media

राज एक्सप्रेस। IT सेक्टर की कुछ बहुचर्चित कंपनियां ऐसी हैं जिनका नाम आज पूरी दुनिया में हर कोई जनता हैं। साथ ही इसका इस्तेमाल किया जाता हैं। इनमें से कई कंपनियों के खिलाफ गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा नोटिस जारी किया गया है। बताते चलें, इन कंपनियों में Google, Amazon और Facebook की WhatsApp भी शामिल हैं। बता दें, इन सभी कंपनियों के खिलाफ याचिका दायर की गई थी।

CPI सांसद ने दायर की याचिका :

दरअसल, CPI सांसद बिनॉय विश्वम द्वारा Google, Amazon और Facebook की WhatsApp कंपनियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। इस याचिका के आधार पर इन सभी कंपनियों के लिए नोटिस जारी किया गया है। कोर्ट ने ने इन सभी ऐप्स से यूजर्स के UPI पर किये जाने वाले लेनदेन के डाटा को सुरक्षित करने की भी मांग की है।

क्या है याचिका में ?

बताते चलें, CPI सांसद बिनॉय विश्वम द्वारा दायर की गई याचिका में इन कंपनियों पर आरोप लगाया गया है कि, इन कंपनियों के अधिकारी भारत में डाटा संग्रहित करने की अनिवार्यता के बिना WhatsApp को UPI भुगतान शुरू करने की अनुमति दे रहे हैं। इस पर भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली तीन जजों की बैंच ने कहा है कि,

'हम नोटिस जारी करेंगे। यहां इस बात की आशंका है कि भुगतान की पूरी व्यवस्था शुरू होने से पहले पूरा नियामक ढांचा तैयार हो जाएगा।'

CPI सांसद बिनॉय विश्वम ने बताया :

CPI सांसद बिनॉय विश्वम की याचिका की पैरवी कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता श्याम दीवान ने सुप्रीम कोर्ट में बताया कि, 'RBI ने साल 2018 के अप्रैल माह में इन बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए एक आदेश जारी किया था। जिसमें कहा गया था कि, वे सुनिश्चित करें कि, इन प्लेटफॉर्म पर डाटा का लेन-देन भारत के भीतर एक सर्वर में सुरक्षित रखा जाएगा। जबकि, इन आदेशों का अनुपालन साल 2018 के अक्टूबर तक किया जाना था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया।' विश्वम ने कोर्ट को जानकारी दी कि, WhatsApp की मूल कंपनी Facebook डाटा को भारत के बाहर सर्वर पर संग्रहित करता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co