Bisleri
BisleriSocial Media

जयंती संभालेंगी बिसलेरी की कमान, टाटा समूह के साथ ब्रिक्री को लेकर चल रही बातचीत खत्म, डील पर लगा ग्रहण

टाटा समूह की टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ने स्पष्ट किया है कि बिसलेरी के अधिग्रहण को लेकर चल रही बातचीत बंद हो गई है। अब लगता है रमेश चौहान की बेटी जयंती ही कंपनी की कमान संभालेंगी।

राज एक्सप्रेस। टाटा समूह की एफएमसीजी इकाई टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ने स्पष्ट किया है कि बिसलेरी के अधिग्रहण को लेकर चल रही बातचीत फिलहाल बंद हो गई है। उल्लेखनीय है कि टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ने बोतलबंद पानी सेगमेंट में मार्केट लीडर बिसलेरी को खरीदने में पिछले दिनों दिलचस्पी दिखाई थी। कंपनी के मालिक रमेश चौहान के बिसलेरी को बेचने की इच्छा जताने के बाद टाटा समूह की फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स क्षेत्र की प्रमुख कंपनी टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ने इसे खरीदने में दिलचस्पी दिखाई थी। कंपनी ने बिसलेरी के अधिग्रहण को लेकर की जा रही बातचीत बंद होने की बात कही है। टाटा कंज्यूमर के साथ अगर बिसेलरी का सौदा हो जाता तो वह इस सेगमेंट की सबसे बड़ी कंपनी बन जाती। पिछले साल से चर्चा है कि रमेश चौहान बिसलेरी को बेचना चाहते हैं।

सौदा होता तो मार्केट लीडर बन जाती टाटा कंज्यूमर

टाटा कंज्यूमर ने स्पष्ट किया कि उसने संभावित लेनदेन को लेकर बिसलेरी के साथ जारी बातचीत बंद कर दी है। कंपनी ने कहा कि बिसलेरी के साथ शुरु हुई बातचीत किसी निर्णायक अंत पर नहीं पहुंच सकी है। इस वजह से इस बातचीत का अंत हो गया। उल्लेखनीय है कि टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड हिमालयन नेचुरल मिनरल वाटर और टाटा वाटर प्लस ब्रॉन्ड्स की मालिक है। अगर बिसलेरी के साथ उसकी बातचीत पूरी हो जाती, तो यह कंपनी इस सेगमेंट में मार्केट लीडर बन जाती। भारत की सबसे बड़ी पैकेज्ड वाटर कंपनी बिसलेरी के मालिक 82 वर्षीय रमेश चौहान हैं। उनकी काफी उम्र हो चुकी है और उनकी बेटी की कारोबार में कोई दिलचस्पी नहीं है। उनका कोई और उत्तराधिकारी नहीं है। इस लिए उन्होंने पिछले साल इस कंपनी को बेचने की बात उठाई थी। रमेश चौहान की बेटी और बिसलेरी की वाइस चेयरपर्सन जयंती कारोबार को लेकर बहुत उत्साहित नहीं हैं। उनकी कारोबार को संभालने में दिलचस्पी नहीं होने की वजह से ही रमेश चौहान ने इसे बेचने का निर्णय लिया है। 

अब कंपनी के कामों को गंभीरता से लेती हैं जयंती

अब लगता है कि जयंती चौहान ने अपना मन बदल लिया है। पिछले कुछ महीनों से वह काफी एक्टिव हैं। अपने लिंक्डइन प्रोफाइल से उन्होंने लगातार बिसलेरी के हर एक कदम को प्रमोट किया है। कुछ महीने पहले बिसलेरी ने अपने ग्राहकों को ऐप के जरिए पानी ऑर्डर करने की सुविधा दी है। कंपनी के इस कदम को जयंती चौहान ने अपने लिंक्डइन प्रोफाइल से शेयर करते हुए ग्राहकों से डोरस्टेप ऐप के जरिए बिसलेरी के पानी बोतल को ऑर्डर करने की अपील की थी। इसके साथ ही बिसलेरी ने आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस और गुजरात टाइटंस के साथ पार्टरनरशिप की है। रमेश चौहान की इकलौती बेटी जयंती चौहान की उम्र 37 साल है। जयंती का बचपन दिल्ली, मुंबई और न्यूयॉर्क में बिता है। जयंती ने 24 साल की उम्र में अपने पिता की देखरेख में बिसलेरी के कारोबार को संभालने की शुरुआत की थी। पहले उन्होंने दिल्ली ऑफिस में कामकाज संभाला। यहां उन्होंने प्लांट का रिनोवेशन किया और ऑटोमेशन प्रोसेस पर फोकस किया। उन्होंने एचआर, सेल्स और मार्केटिंग जैसे डिपार्टमेंट नए सिरे से तैयार कर एक मजबूत मार्केटिंग की टीम खड़ी की। जयंती चौहान कंपनी के विज्ञापन और कम्युनिकेशन डेवलपमेंट में भी पूरी तरह से शामिल रहती हैं। पैकेज्ड ड्रिंकिंग वॉटर बाजार में बिसलेरी के पास 32% मार्केट शेयर है, जो काफी बड़ा है। इस समय देश में बिसलेरी के 122 से अधिक ऑपरेशनल प्लांट हैं। लगभग 5,000 ट्रकों के साथ 4,500 से अधिक डिस्ट्रीब्यूटर्स के  नेटवर्क के सहारे से बिसलेरी एक हाउसहोल्ड नाम बन गया है। 

पारले ग्रुप ने 1969 में चार लाख रुपए में खरीदी थी बिसलेरी  

साल 1969 में चौहान परिवार के नेतृत्व वाली पारले ने बिसलेरी (इंडिया) लिमिटेड को केवल चार लाख रुपए में खरीदा था। रमेश चौहान की उम्र उस समय केवल 28 साल थी। 1995 में इस कंपनी की कमान रमेश चौहान के हाथों में आ गई। बिसलेरी इटली की कंपनी थी। उस वक्त यह कंपनी संपन्न वर्ग के लिए कांच की बोतल में मिनरल वॉटर बेचती थी। रमेश चौहान ने तीन दशक पहले अपने सॉफ्ट ड्रिंक कारोबार को अमेरिकी पेय पदार्थ कंपनी कोका-कोला को बेच दिया था। उन्होंने थम्स अप, गोल्ड स्पॉट, सिट्रा, माजा और लिम्का जैसे ब्रांड 1993 में कंपनी को बेच दिए थे। कोका-कोला को सॉफ्ट ड्रिंक के ब्रांड बेचने के बाद उन्होंने बस पैकेज्ड ड्रिंकिंग वॉटर पर फोकस किया और इसे शुद्ध जल का पर्याय बना दिया। रमेश चौहान 2016 में फिर सॉफ्ट ड्रिंक के कारोबार में उतरे, लेकिन इस बार उनके प्रोडक्ट ‘बिसलेरी पॉप’ को उतनी सफलता नहीं मिल सकी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co