टाटा ग्रुप ने जताई Air India को खरीदने की इच्छा
Tata Group will bid for air india Kavita Singh Rathore -RE

टाटा ग्रुप ने जताई Air India को खरीदने की इच्छा

अब Air India को खरीदने के लिए भारत की कंपनी TATA (टाटा) ग्रुप ने अपनी इच्छा जताते हुए मूल्यांकन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। खबरों के अनुसार, टाटा ग्रुप अगस्त माह के अंत तक अपनी बोली की पेशकश करेगी।

राज एक्सप्रेस। भारत की सरकारी क्षेत्र की हवाई सेवा प्रदान करने वाली एयरलाइन कंपनी Air India नुकसान के चलते बिकने की कगार पर आ चुकी है। जिसके लिए बोली की प्रक्रिया चालू है। वहीं, अब Air India को खरीदने के लिए भारत की नंबर वन कंपनियों में शुमार TATA (टाटा) ग्रुप ने अपनी इच्छा जताते हुए मूल्यांकन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। खबरों के अनुसार, टाटा ग्रुप अगस्त माह के अंत तक अपनी बोली की पेशकश करेगी।

मूल्यांकन की प्रक्रिया :

कंपनी से जुड़े सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुतबिक, जब तक मूल्यांकन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती है, तब तक इस मामले पर कुछ कहा जाना मुश्किल ही होगा, क्योंकि, टाटा संस इस प्रस्ताव के मूल्यांकन की प्रक्रिया से गुजर रहा रहा है और प्रक्रिया पूरी होने के बाद सही समय पर कंपनी बोली लगाएगी। कम्पनी के प्रवक्ता ने बताया है कि, Air India के सही मूल्यांकन के लिए टाटा ग्रुप अभी लीगल फर्म और कंसल्टेंट्स के साथ बातचीत कर रहा है।

एशिया इंडिया और एयर इंडिया का मर्जर :

खबरों की माने तो टाटा ग्रुप एयर एशिया इंडिया और एयर इंडिया का मर्जर करने पर विचार कर रहा है। हो सकता है यह कंपनियां जल्द ही मर्ज हो जाए। बताते चलें, वर्तमान में एयर एशिया इंडिया में टाटा ग्रुप की 51% हिस्सेदारी है। टाटा ग्रुप की हिस्सेदारी की बात की जाए तो, कंपनी की एयरलाइन विस्तारा में भी 5 साल पुरानी हिस्सेदारी है। विस्तारा में सिंगापुर एयरलाइंस की 49% हिस्सेदारी शामिल है।

लीगल एक्सपर्ट का कहना :

इस मामले में मुंबई के एक लीगल एक्सपर्ट का कहना है कि, Air India को खरीदना अपने आप में ही एक बहुत बड़ा प्रस्ताव है। इस कंपनी को जो को भी ख़रीदे उसमे बहुत सारी लीगल समझ होना अनिवार्य है। इसके अलावा स्टेकहोल्डर्स का साथ और सरकार की सहायता की अवस्य्क्ता भी अनिवार्य रूप से होना चाहिए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co