Raj Express
www.rajexpress.co
TCS Quarterly Result
TCS Quarterly Result|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

TCS कंपनी ने पेश किये वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही के नतीजे

आईटी सेक्टर की कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड (TCS) ने वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही के नतीजे पेश कर दिए है, आइये इनके आधार पर तय करे कंपनी का मुनाफा घटा या बढ़ा ?

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। आईटी सेक्टर की कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज लिमिटेड (TCS) को वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में घाटा हुआ है, चलिए एक नजर डालें दूसरी तिमाही में कंपनी की आय, एबिट, एट्रिशन रेट और घाटे पर। TCS कंपनी ने आज ही अपने दूसरी तिमाही के नतीजे (TCS Quarterly Result) घोषित किये हैं। साथ ही कंपनी ने 40 रुपये प्रति शेयर के स्पेशल डिविडेंड की भी घोषणा की है। इन सब के अलावा कंपनी ने 2020 की दूसरी तिमाही में 14097 नई भर्तियां भी की हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, TCS कंपनी की कुल आय में डिजिटल कारोबार का योगदान 33.2% रहा।

TCS कंपनी का मुनाफा :

वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में TCS कंपनी को घाटा झेलना पड़ा है, क्योंकि कंपनी का मुनाफा 1.1% की दर से घटकर 8042 करोड़ रुपये रहा है जो, पहली साल की तिमाही में 8131 करोड़ रुपये था।

TCS कंपनी की आय :

वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में TCS कंपनी की आय में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई, जो 2.1% की दर से बढ़कर 38977 करोड़ रुपये हो गई है जो, पहली साल की तिमाही में 38172 करोड़ रुपये थी।

TCS कंपनी की डॉलर में आय :

वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में TCS कंपनी की डॉलर में होने वाली आय घटी है क्योंकि यह 551.7 करोड़ डॉलर रही, जबकि अनुमान 558.7 करोड़ डॉलर रहने का लगाया गया था।

TCS कंपनी का एबिट :

वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में TCS कंपनी का एबिट में भी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है जो, 9220 करोड़ रुपये से बढ़कर 9361 करोड़ रुपये रहा है जो, पहली साल की तिमाही में TCS का एबिट मार्जिन 24.15% से घटकर 24% रहा था।

TCS कंपनी का रेट :

वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में TCS कंपनी के IT सर्विसेस की एट्रिशन रेट 11.6% रहा।

वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में TCS कंपनी की ग्रोथ :

  • उत्तर-अमेरिकी कारोबार की ग्रोथ 5.3% रही।

  • एशिया प्रशांत कारोबार की ग्रोथ 6.3% रही।

  • MEA और LATAM कारोबार की ग्रोथ 7.3% रही।

  • यूके कारोबार की ग्रोथ 13.3% रही।

  • भारतीय कारोबार की ग्रोथ 7.7% रही।

  • यूरोपीय कारोबार की ग्रोथ 16% रही।

  • टेक और सर्विसेस सेक्टर की ग्रोथ 5.6% रही।

  • मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ 7.8% रही।

  • कम्यूनिकेशन और मीडिया सेक्टर की ग्रोथ 11.8% रही।