ओटीटी चैनल्स वितरक बन मनोरंजन व्यवसाय बदलने की तैयारी में अमेजन प्राइम
ओटीटी चैनल्स वितरक बन मनोरंजन व्यवसाय बदलने की तैयारी में अमेजन प्राइमSocial Media

ओटीटी चैनल्स वितरक बन मनोरंजन व्यवसाय बदलने की तैयारी में अमेजन प्राइम

अमेज़न प्राइम अपने द्वारा बनाए गए सीरीज के अलावा वह अपने साथ कई और ओटीटी प्लेटफार्म को भी लाने की तैयारी कर रहा है। यह वर्तमान ओटीटी व्यवसाय को बदलने का पहला कदम माना जा रहा है।

राज एक्सप्रेस। अमेज़न अपने द्वारा बनाए हुए वेब सीरीज या सीरियल्स को ही अपने ग्राहकों को दिखाता था, परंतु अमेज़न प्राइम ने अपने व्यवसाय का तरीका बदलने की पूरी तैयारी कर ली है। अमेज़न प्राइम अपने द्वारा बनाए गए सीरीज के अलावा वह अपने साथ कई और ओटीटी प्लेटफार्म को भी लाने की तैयारी कर रहा है। यह वर्तमान ओटीटी व्यवसाय को बदलने का पहला कदम माना जा रहा है।

प्राइम वीडियो ने देश में सब्सक्रिप्शन वीडियो मनोरंजन के लिए एक खास मंच तैयार करने की दिशा में अपना कदम आगे बढ़ाया है। अपने इस प्रयोग के तहत अमेज़न प्राइम वीडियो ग्राहकों को अब विभिन्न ओटीटी प्लेटफार्म के माध्यम से अपने साथ और ग्राहको अपने साथ जोड़ने की कोशिश करेगा, क्योंकि ग्राहकों को इन सुविधाओं का लाभ लेने के लिए अलग से कोई शुल्क नहीं देना होगा, परंतु दूसरे ओटीटी प्रदाताओं को यह मौका मिलेगा कि वह अकेले भी अपने प्लेटफार्म पर ग्राहकों को जोड़ सकते हैं।

साथ ही यह पूरी सुविधाओं का लाभ ग्राहक अपने मोबाइल के साथ-साथ अपने टीवी पर भी ले सकते हैं। 24 अक्टूबर से अमेज़न प्राइम वीडियो यह सेवा भारत में शुरू कर रहा है इसके तहत अमेजन ने प्रारंभिक रूप से अपने साथ डिज्नी प्लस, लायंसगेट प्ले, डॉक्यूबे, इरोज नाउ, होइचोई, मनोरमा मैक्स, मूवीज और शॉर्ट टीवी की सामग्री उपलब्ध कराएगा। इस पहल के तहत अमेजन प्राइम वीडियो के पास अपने प्लेटफार्म के अलावा बाकी सभी प्लेटफॉर्म के सामग्रियों को मिला कर लगभग 10,000 कॉन्टेंट उपलब्ध होंगे।

अमेज़न यह सुविधा भारत के अलावा अन्य 12 देशों में भी पूर्व से ही उपल्ब्ध करा रहा है परंतु अमेज़न एशिया में सिर्फ 2 देशों जापान और अब भारत में यह सर्विस लेकर आया है। भारत अमेजन के लिए सबसे बड़ा उभरता बाजार है, इसी के तहत अमेज़न ने एक नया प्रयोग कर बाजार पर अपनी पकड़ बनाने की दिशा में पहला कदम बढ़ाया है। अभी इसके तहत दुनिया भर के 350 ओटीटी चैनलों के साथ अमेजन ने समझौता किया है और आने वाले दिनों में और भी बहुत सारे चैनल्स को अपने प्लेटफार्म पर पर लाने का प्रयास कर रहा है। अमेजन अपने इस ओटीटी वितरण योजना के तहत अपने व्यवसाय को आने वाले वर्षों में लगभग 3 गुना करने का प्लान बना रहा है, साथ ही अमेजन की प्लानिंग है कि सभी ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को इस योजना के तहत अपने साथ जोड़ कर बाजार में अपना वर्चस्व बनाए।

भारत में अभी मौजूदा समय में 8 करोड़ लोगों ने विभिन्न विभिन्न प्लेटफॉर्म के सब्सक्रिप्शन ले रखा है और यह सब्सक्रिप्शन कोरोना महामारी के समय 3 गुना तक बढ़ी है। इसी अवसर को देखते हुए अमेज़न ने नया प्रयोग किया है। भारत में अभी अमेजन की इस व्यवसाय में 19 प्रतिशत हिस्सेदारी है, वही नेटफ्लिक्स अभी भी नंबर एक पर काबिज है और उसके पास 38 प्रतिशत हिस्सेदार है, जबकि डिज्नी हॉटस्टार के पास 21 प्रतिशत ग्राहक है, बाकी बचे 22 प्रतिशत में सभी बचे प्लेटफार्म के पास थोड़े थोड़े ग्राहक मौजूद है। अमेजन का इस को शुरू करने के बाद यह योजना है कि सभी दर्शकों को अपने पास लाया जाए और उन को अधिक से अधिक सामग्री उपलब्ध कराई जाए और भारत में अपने को नंबर वन बनाने का प्रयास किया जाए। सभी ओटीटी प्लेटफॉर्म का भारत पर नजर इसलिए है कि भारत के पास मौजूदा समय में बड़ी मात्रा में मोबाइल उपभोक्ता है जो डाटा का भी उपयोग करते हैं और इन उपभोक्ताओं तक अधिक सामग्री पहुंचा कर और सेवा को सस्ता करके उन सबको अपने से जोड़ने यह एक अभिनव प्रयोग है।

अगर अमेजन अपने इस प्रयोग में सफल हो जाती है तो वह दिन दूर नहीं जब भारत के प्रत्येक नागरिक के पास मोबाइल में कोई ना कोई ओटीटी ऐप डाउनलोड होगा। सरकार ने अभी इन मनोरंजन के प्लेटफार्म के लिए कोई नीतिगत योजना नहीं बनाई है परंतु जल्द ही ला सकती है। साथ ही हमें यह भी देखना है कि अमेज़न की इस नई पहल यानी ओटीटी प्लेटफॉर्म का वितरक बनने की भूमिका में आने के बाद उसको और भारतीय मनोरंजन बाजार को कितना फायदा पहुंचाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.