15 मई तक नहीं मानी WhatsApp की नई गोपनीयता नीति तो क्या होगा?
WhatsApp की गोपनीयता की नई शर्तों में क्या नया है?Neelesh Singh Thakur – RE

15 मई तक नहीं मानी WhatsApp की नई गोपनीयता नीति तो क्या होगा?

15 मई के बाद आप खुलकर वाट्सपया नहीं सकेंगे। दरअसल इसके 120 दिन बाद WhatsApp के पूरे विकल्प तब काम करेंगे जब आप इन स्टेप्स को पूरा कर लेंगे।

हाइलाइट्स

WhatsApp का ऐलान

15 मई बाद रखना होगा ध्यान

120 दिन बाद ऐप के लिए यूज़र अनजान

राज एक्सप्रेस। नई व्हाट्सऐप गोपनीयता नीति को उपयोगकर्ताओं, प्रतिद्वंद्वियों के साथ-साथ भारत सरकार की आलोचना का भी सामना करना पड़ा है। इसके बावजूद व्हाट्सएप ने नई गोपनीयता नीति के साथ आगे बढ़ने की प्रतिबद्धता जताई है। अब कंपनी की योजना नई नीति को 15 मई से कुछ आमूलचूल बदलाव के साथ लागू करने की है।

सवाल उठता है कि अगर कोई उपयोगकर्ता वाट्सऐप की नई नीतियों को 15 मई तक स्वीकार नहीं करता है, तब क्या होगा?

FAQ बताता है -

वाट्सऐप के फ्रीक्वेंटली आस्क्ड क्वेश्चन (FAQ) यानी बार बार पूछे जाने वाले सवाल से जुड़े पेज पर दी गई जानकारी के अनुसार वाट्सऐप का उपयोग करने वालों को नई नीति के बारे में निर्णय लेने के लिए अंतिम तिथि के बाद भी वक्त मिलेगा।

जो वाट्सऐप उपयोगकर्ता गोपनीयता संबंधी नई शर्तों को स्वीकार करने से मना करते हैं वे आगामी 120 दिनों तक ही वाट्सऐप का उपयोग कर पाएंगे।

120 दिनों के दौरान -

वाट्स्ऐप की नई शर्तों पर विचार करने के लिए मिलने वाले 120 दिनों के दौरान हालांकि यूज़र्स को ऐप के सारे फंक्शन की सुविधा नहीं मिल पाएगी। मतलब मिलने वाले 120 अतिरिक्त दिनों में यूज़र के लिए ऐप पर संदेश अनुप्रयोग की कार्यक्षमता सीमित होगी।

आधिकारिक वाट्स्ऐप FAQ पृष्ठ बताता है कि; "थोड़े समय के लिए, आप कॉल और सूचनाएं प्राप्त करने में सक्षम होंगे, लेकिन ऐप से संदेशों को पढ़ने या भेजने में सक्षम नहीं होंगे।"

खाता हो जाएगा विलोपित -

वाट्सऐप उन यूजर्स के WhatsApp अकाउंट को विलोपित (डिलीट) कर देगा जो अंतिम तिथि 15 मई के 120 दिन बाद भी उसकी नई नीति पर चलने के लिए तैयार नहीं होते। मतलब वाट्सऐप की नई नीति स्वीकार न करने वालों के वाट्सऐप अकाउंट कंपनी की ओर से निर्धारित अवधि के बाद डिलीट कर दिये जाएंगे।

उपयोगकर्ता का खाता डिलीट होने का मतलब? -

15 मई के 120 दिनों के बाद भी वाट्सऐप की गोपनीयता संबंधी नई शर्तों के बारे में रजामंदी न जताने के बाद उपयोगकर्ता का खाता डिलीट कर दिया जाएगा। खाता डिलीट होने की दशा में खाताधारक को अपने अकाउंट से जुड़़ी चैट और समूहों से हाथ धोना पड़ेगा।

डिलीट होने के बाद विकल्प -

खाताधारक यदि अकाउंट के डिलीट होने के बाद भी अपना नया वाट्सऐप खाता उसी (पुराने वाले) फोन नंबर के साथ उपयोग करना चाहता है, तो उसको अब एक नया खाता बनाना होगा।

इस नई प्रक्रिया के लिए संबंधित को स्क्रैच से शुरू करना होगा। इस प्रोसेस में भी शर्त 120 दिन पहले वाली ही रहेगी मतलब वाट्सऐप पर फिर से जुड़ने के लिए पहले वाट्सऐप की गोपनीयता संबंधी नई शर्तों को स्वीकार करना होगा।

वाट्सऐप के प्रयास -

वाट्सऐप फिलहाल यूज़र की निजता संबंधी भ्रांतियों को दूर करने के बारे में लगातार प्रयासरत है। आपको बताएं कि; गोपनीयता संबंधी नई नीति की घोषणा के बाद से ही वाट्सऐप को प्रतिक्रिया बतौर कड़वी घुट्टी पीने को मिली है।

फेसबुक के स्वामित्व वाला यह सोशल ऐप उन तर्कों की धूल को साफ करने का प्रयास कर रहा है जिसमें वाट्सऐप की नई गोपनीयता नीति के बारे में चर्चा की जा रही है। वाट्सऐप की कोशिश फिलहाल यह स्पष्ट करने की है कि उसकी गोपनीयता संबंधी नई नीति से वास्तव में क्या बदलने वाला है।

स्पष्टता के लिए बैनर -

अपनी बात यूज़र तक पहुंचाने के लिए वाट्सऐप ने अपने खुद के स्टेटस अपडेट पेज का सहारा लिया है। इस पेज के जरिेये वाट्सऐप ने सार्वजनिक रूप से कई स्पष्टीकरण दिये हैं। अब ऐप की तैयारी जल्द ही वाट्सऐप में नया बैनर प्रदर्शित करने की है।

इन बिंदुओँ पर फोकस -

वाट्सऐप सभी तरीकों के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को आश्वस्त कर रहा है कि उनकी चैट निजी रहेगी और व्यापारिक खातों के साथ चैट तक पहुंच प्राप्त करने वाली कंपनियां "पूरी तरह से वैकल्पिक हैं।"

ऐप ने इस महीने की शुरुआत में एक ब्लॉग पोस्ट में लिखा था। - "यहां पर हम परिलक्षित होते हैं कि हम क्या बेहतर कर सकते थे। हम चाहते हैं कि हर कोई एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन के हमारे इतिहास को जाने और विश्वास करे कि हम लोगों की गोपनीयता और सुरक्षा की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं।"

डिस्क्लेमर आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co