S. Naren
S. NarenRaj Express

शेयर बाजार में जारी रहेगा तेजी का सिलसिला, 2024 में सुर्खियों में रहेंगे लार्ज कैप कंपनियों के शेयरः नरेन

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एसेट मैनेजमेंट कंपनी के मुख्य निवेश अधिकारी एस नरेन ने कहा बाजार में लार्ज-कैप सेगमेंट में तेजी की अभी शुरूआत हुई है। आगे और तेजी आएगी।

हाईलाइट्स

  • बाजार में लार्ज-कैप सेगमेंट में तेजी की अभी शुरूआत हुई है।

  • तेजी का यह सिलसिला अगले साल में भी जारी रहने वाला है।

  • अगले दिनों में लार्ज-कैप शेयरों द्वारा संचालित की जाएगी तेजी।

राज एक्सप्रेस । आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एसेट मैनेजमेंट कंपनी के मुख्य निवेश अधिकारी एस नरेन के अनुसार बाजार में लार्ज-कैप सेगमेंट में तेजी की अभी शुरूआत हुई है। उन्होंने कहा कि तेजी का यह सिलसिला अगले साल में भी जारी रहेगा। नरेन ने बताया कि अगले दिनों में बाजार में बढ़ोतरी लार्ज-कैप शेयरों द्वारा संचालित की जाएगी। नरेन ने कहा लार्ज कैप कंपनियों के शेयर 2024 में सुर्खियाँ बटोरने वाले हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है। उन्होंने कहा कि इस सेगमेंट में रिटर्न विदेशी निवेशकों की भागीदारी पर निर्भर करता है।

एफपीआई पर निर्भर करेगी शेयर बाजार की तेजी

उन्होंने कहा अगर एफपीआई निवेश करना जारी रखते हैं, तो बाजार में सकारात्मक रिटर्न देखने को मिलेगा। अगर एफआईआई निवेश नहीं करेंगे तो मुझे नहीं लगता कि रिटर्न मिलना जारी रहने वाला है। नरेन ने कहा ऐसा लगता है कि घरेलू निवेशक पहले ही काफी रकम निवेश कर चुके हैं। अब बाजार को आगे पीछे लाने ले जाने में एफआईआई महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। उन्होंने कहा, ऐतिहासिक आंकड़ों के आधार पर किसी निष्कर्ष पर पहुंचने का प्रयास करें तो प्रायः देखने में आया है कि चुनावी सालों के दौरान, बाजार में तेजी का शेयर बाजार में एफआईआई द्वारा लगाई गई धनराशि से निकट संबंध रहा है।

एफआईआई के लिए पसंदीदा सेक्टर हो सकता है बैंक

नरेन ने कहा कि मौजूदा बाजार की स्थिति को देखते हुए स्पष्ट है कि कोई भी जेब बहुत सस्ती नहीं है। उन्होंने कहा, व्यापक तेजी की वजह से बाजार में ऐसी स्थिति पैदा हो गई है, जहां इस समय कोई गुंजाइश दिखाई नहीं देती है। नरेन ने कहा कि बैंकों से उचित रिटर्न की उम्मीद की जा सकती है। सेक्टर के रूप में उनका निवेश कम नहीं है। उन्होंने कहा अगर विदेशी संस्थागत निवेशकों को बेहतर रिटर्न मिला तो उनके निवेश के लिए बैंक पसंदीदा क्षेत्र हो सकते हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि धन के अध्यधिक प्रवाह की वजह से बैंकिंग शेयरों के अच्छी तेजी दिखाई दे सकती है।

विदेशी निवेशकों ने हाथ खींचा तो आ सकती है गिरावट

इसके विपरीत, यदि धन का प्रवाह घटता है तो इस क्षेत्र को बिकवाली के दबाव का सामना करना पड़ सकता है। ऐसी स्थिति में निवेशक बाजार से अपना पैसा निकाल कर कहीं और लगाने के विकल्प पर विचार कर सकते हैं। नरेन ने कहा, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों के साथ व्यवहार करते समय सावधानी बरतना जरूरी है। उन्होंने कहा इन कंपनियों पर विचार करने से पहले केवल जोखिम विश्लेषण पर ही निर्भर रहने की जगह, मूल्यांकन विश्लेषण पर भी ध्यान देना जरूरी है। उन्होंने कहा कि जमा बाज़ार भी उतना ही महत्वपूर्ण है। जो लोग सस्ते में संसाधन जुटाने में सक्षम हैं, मुझे लगता है कि उनकी स्थिति अच्छी रहने वाली है। ऐसे लोग चाहे बैंकिंग सेक्टर में हों या फिर एनबीएफसी बाजार में, उन्हें निराश नहीं होना पड़ेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co