Amitabh Kant
Amitabh KantG20 New Delhi Summit

नई दिल्ली घोषणा पत्र पर सभी देशों को राजी करने के लिए राजनयिकों की टीम ने 200 घंटे तक की मेहनत

अमिताभ कांत ने टीम की एक तस्वीर साझा करते हुए कहा युवा अधिकारियों की अभूतपूर्व टीम जिसने जी20 को जन्म दिया। जबरदस्त ऊर्जा, जीवंतता और आगे बढ़ने के लिए उतावले...

हाईलाइट्स

  • अमिताभ कांत ने जी20 समिट के आयोजन से जुड़े अधिकारियों को अत्यन्त प्रतिभाशाली और दृढ़निश्चयी बताया

  • पीएम मोदी के समावेशी और कार्यउन्मुख दृष्टिकोण को पूरा करने उनके साथ काम करना अत्यन्त प्रसन्नता का क्षण

राज एक्सप्रेस। अमिताभ कांत ने टीम की एक तस्वीर साझा करते हुए एक्स पर लिखी एक पोस्ट में कहा युवा अधिकारियों की अभूतपूर्व टीम जिसने जी20 को जन्म दिया। जबरदस्त ऊर्जा, जीवंतता, गतिशीलता और हमेशा आगे बढ़ने के लिए उतावले। वे सभी उज्ज्वल, प्रतिभाशाली और सफल होने के लिए दृढ़ हैं। पीएम नरेंद्र मोदी के समावेशी और कार्य उन्मुख जी20 के दृष्टिकोण को पूरा करने के लिए उनके साथ काम करना मेरे लिए अत्यन्त प्रसन्नता का क्षण है।

एक अन्य पोस्ट में, अमिताभ कांत ने लिखा, जी20 इंडिया नई दिल्ली लीडर्स घोषणापत्र में पीएम नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी विश्वदृष्टिकोण-महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास, मानव-केंद्रित प्रगति, जीवन, समावेशिता और कार्य-उन्मुख परिणामों की स्थायी छाप है। यह एक ऐसी दुनिया के प्रति उनके समर्पण का प्रतिबिंब है, जहां कोई भी पीछे नहीं छूटता।

जी20 शिखर सम्मेलन में रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर पश्चिमीस देशों के साथ मतभेदों को दूर करते हुए सर्वसम्मति से की गई घोषणा के दौरान सभी पक्षों को साथ लाने को राजी करना भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत है। अमिताभ कांत ने कहा शिखर सम्मेलन में जी20 घोषणा पत्र पर आम सहमति बनाने के लिए भारतीय राजनयिकों की एक टीम को 200 घंटे से अधिक समय तक लगातार बातचीत करनी पड़ी।

अमिताभ कांत ने कहा जी20 नेताओं द्वारा स्वीकार किया गया नई दिल्ली घोषणा पत्र मजबूत और सतत विकास लक्ष्यों पर केंद्रित तीव्र प्रगति, हरित विकास समझौते और बहुपक्षवाद को फिर से मजबूत करने पर केंद्रित है। उन्होंने कहा जी20 घोषणा पत्र ऐतिहासिक, अद्वितीय और सभी भूराजनीतिक विवादों पर सहमति कायम करने वाला है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co