Twitter ने जून में 46,000 से ज्यादा यूजर्स के अकाउंट किए बैन

Twitter द्वारा जून 2022 की मासिक अनुपालन रिपोर्ट जारी की गई है। इस रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी ने जून में 46,000 से ज्यादा यूजर्स के अकाउंट बैन किए हैं।
Twitter ने जून में 46,000 से ज्यादा यूजर्स के अकाउंट किए बैन
Twitter ने जून में 46,000 से ज्यादा यूजर्स के अकाउंट किए बैनSyed Dabeer Hussain - RE

राज एक्सप्रेस। हर एप्लीकेशन अपनी लांचिंग के समय कुछ नियम व शर्ते रखती है। जिन्हें उस ऐप के यूजर्स को मानना पड़ता है। यदि किसी वजह से यूजर्स इन नियमों का उल्लंघन करते हैं तो, वो ऐप उनके अकाउंट को बिना किसी अनुमति के निलंबित कर देती है। भले वो कोई नेता, सेलिब्रिटी हो या आम आदमी। ऐसा ही कुछ हुआ सोशल मीडिया प्लेटफार्म Twitter के 46,000 से ज्यादा यूजर्स के साथ हुआ है।जानें, Twitter ने अपने यूजर्स के साथ ऐसा क्यों किया।

Twitter ने बंद किए अपने यूजर्स के अकाउंट :

दरअसल, Twitter कंपनी द्वारा समय-समय पर अपने द्वारा की गई कार्रवाई से जुड़ी रिपोर्ट जारी करती है, जिसे मासिक अनुपालन रिपोर्ट भी कह सकती है। इस मासिक अनुपालन रिपोर्ट के सामने आने पर बहुत से खुलासे होते हैं। इन खुलासों के तहत इस बात की जानकारी भी मिलती है कि, कितने अकाउंट बैन किए हैं। वहीं, अब Twitter की जून की रिपोर्ट सामने आने पर यह जानकारी सामने आई है कि, कंपनी ने जून के महीने में 43,140 से अधिक अकाउंट्स को बैन किया था। इनमें से 40,982 अकाउंट बाल यौन शोषण, गैर-सहमति वाली नग्नता वाले कंटेंट पोस्ट करने के चलते हटाए गए। जबकि, 2,158 अकाउंट आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले कंटेंट के चलते बैन किए गए हैं। बता दें, इस तरह के पोस्ट के माध्यम से इन सभी अकाउंट द्वारा कंपनी के दिशा निर्देशों का उल्लंघन किया गया था।

Twitter का ब्लॉग :

खबरों की मानें तो, Twitter को 26 मई से 25 जून के बीच अपने स्थानीय शिकायत तंत्र के द्वारा देश में 724 शिकायतें मिलीं थी। इनमें से 122 शिकायतों पर कार्रवाई की गई। इसके बाद Twitter ने मई में 46,000 भारतीय यूजर्स के अकाउंट पर बैन लगा दिया था। इसके बाद मई में Twitter अपने स्थानीय शिकायत तंत्र के माध्यम से 1,698 शिकायतें मिली थीं। जिसके बाद जून में यह कार्रवाई की गई। ट्विटर ने एक ब्लॉग शेयर करते हुए लिखा है कि, 'कंपनी ने बाल यौन शोषण, गैर-सहमति वाली नग्नता और इसी तरह के कंटेंट के लिए 40,982 खातों को हटा दिया और आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए 2,158 खातों पर प्रतिबंध लगा दिया। हालांकि हम अपने मंच पर खुद को व्यक्त करने के लिए हर किसी का स्वागत करते हैं, हम ऐसे व्यवहार को बर्दाश्त नहीं करते हैं जो दूसरों की आवाज को दबाने के लिए परेशान करता है, धमकी देता है, अमानवीय करता है या डर का इस्तेमाल करता है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co