Twitter ने भारत सरकार के सामने घुटने टेकते हुए ब्लॉक किए 97% अकाउंट
Twitter ने ब्लॉक किए 97% अकाउंटSyed Dabeer Hussain - RE

Twitter ने भारत सरकार के सामने घुटने टेकते हुए ब्लॉक किए 97% अकाउंट

Twitter ने सरकार के आदेशों को मानते हुए केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की शिकायत पर ऐसे अकाउंट्स ब्लॉक कर दिए, जो भड़काऊ और गलत जानकारी फैला रहे थे।

राज एक्सप्रेस। पिछले कुछ समय से माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter किसान आंदोलन के बाद से ही विवादों में गिरी है। इस ममले में भारत सरकार द्वारा Twitter को निर्देशों में कहा गया था कि, 'वह ऐसे कई अकाउंट को बंद कर दें, जिनसे कथित तौर पर देश में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर भ्रामक एवं भड़काऊ बयान व सूचनाएं जारी की जा रही हैं। हालांकि, तब Twitter ने सरकार के आदेश नहीं माने थे, लेकिन अब उन आदेशों को मानते हुए ऐसे अकाउंट्स ब्लॉक कर दिए हैं। बता दें, इस मामले में केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने Twitter से शिकायत की थी।

Twitter ने ब्लॉक किए अकाउंट :

दरअसल, भारत सरकार ने Twitter को आदेश देते हुए कहा था कि, यदि सरकार की तरफ से जारी किए गए आदेश Twitter ने नहीं माने तो सरकार भारत में उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर सकती है। हालांकि, Twitter ने तब सरकार के इस आदेश को मानने से इनकार कर दिया था साथ ही कहा था कि, यदि वह ऐसा करता है तो, ये उसके यूजर्स की अभिव्यक्ति की आजादी के मूल अधिकार का उल्लंघन होगा, लेकिन अब Twitter ने सरकार की बात मानते हुए 97% से ज्यादा अकाउंट्स ब्लॉक कर दिए हैं। बता दें यह ऐसे अकाउंट हैं जिनसे किसानों के प्रदर्शन को लेकर भड़काऊ और भ्रामक सामग्री पोस्ट की जा रही है।

Twitter और IT सचिव की बैठक :

बताते चलें, बुधवार को Twitter के प्रतिनिधियों और सूचना एवं प्रौद्योगिकी सचिव के बीच हुई एक बैठक आयोजित की गई थी ,उसके बाद ही Twitter द्वारा यह कदम उठाया गया। इस बैठक के दौरान दोनों पक्षों के बीच कई देर बातचीत चली। साथ ही अमेरिकी माइक्रोब्लॉगिंग साईट को स्थानीय कानून का अनुपालन करने की सख्त चेतवानी देते हुए कहा गया था कि, यदि Twitter ने ऐसे पोस्ट पर रोक नहीं लगाई तो, उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है और कंपनी उसके लिए तैयार रहे। हालांकि इस बैठक के बाद Twitter ने सरकार के आदेशों का अनुपालन करते हुए जिन अकाउंट पर आपत्ति जताई थी, उनमें से 97% सकौंट्स को ब्लॉक कर दिया।

मंत्रालय का Twitter से सवाल :

बताते चलें, Twitter ने भले ही यह अकाउंट ब्लॉक कर दिए हों, लेकिन इस मामले में अभी तक कोई अन्य प्रतिक्रिया या बयान जारी नहीं किया है। उधर बैठक के दौरान मंत्रालय ने कानून-व्यवस्था के लिए समस्या पैदा करने वाली भड़काऊ सामग्री को ब्लॉक करने के आदेश पर कार्रवाई करने में हो रही देरी के बारे में भी Twitter से सवाल किया था कि, Twitter ने अमेरिकी संसद भवन परिसर (US कैपिटल हिल) में हुई इसी तरह की घटना पर कार्रवाई करने में तत्परता दिखाई थी।

Twitter ने सौंपी ब्लॉक अकाउंट की लिस्ट मंत्रालय को :

बताते चलें, इलेक्ट्रॉनिक्स, सूचना और प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने Twitter से 'भड़काऊ कंटेंट' पोस्ट करने वाले अकाउंट्स ब्लॉक करने को कहा था। इतना ही नहीं भारत सरकार द्वारा Twitter से दो बार अपील की थी कि, वह चिन्हित किए 1,435 अकाउंट को ब्लॉक करें। बता दें, इनमें से Twitter ने 1,398 अकाउंट को ब्लॉक कर दिया है और इन ब्लॉक किए अकाउंट की लिस्ट मंत्रालय को सौंप दी है। इसके अलावा Twitter के कहना है कि, बचे हुए अकाउंट्स को लेकर प्रक्रिया जारी है। बता दें, यह ऐसे अकाउंट्स है जो पाकिस्तान और खालिस्तान समर्थकों से संबंध रखते हैं।

सरकार के आदेश :

बताते चलें, सरकार द्वारा Twitter को दिए गए निर्देशों में कहा गया था कि, 'वह ऐसे कई अकाउंट को बंद कर दें, जिनसे कथित तौर पर देश में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर भ्रामक एवं भड़काऊ बयान व सूचनाएं जारी की जा रही है। इनमे 4 फरवरी को 1,178 अकाउंट ब्लॉक करने को कहा गया था। जबकि इसके पहले 257 ट्वीट और ट्विटर हैंडल ब्लॉक करने को कहा था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co