भारत के बाद अमेरिका भी चीनी ऐप बैन कर चीन को दे सकता है बड़ा झटका
US looking at Banning Chinese AppsKavita Singh Rathore -RE

भारत के बाद अमेरिका भी चीनी ऐप बैन कर चीन को दे सकता है बड़ा झटका

भारत के बाद अमेरिका भी चाइनीज ऐप्स के इस्तेमाल को अमेरिका भी बैन कर सकता है। भारत के बाद यदि अमेरिका ने भी चाइनीज ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया तो, यह चीन के लिए किसी दूसरे बड़े झटके से कम नहीं होगा।

राज एक्सप्रेस। लद्दाख में चीन द्वारा की गई कार्यवाही से चीन का यह रवैया न केवल भारत को बुरा लगा है। बल्कि अमेरिका द्वारा भी इस कार्यवाही की घोर निंदा की गई है। चीन के खिलाफ कदम उठाते हुए भारत ने हाल ही में चीन की 59 ऐप बैन कर दी थी। वहीं अब यही कदम उठाने पर अमेरिका भी विचार कर रहा है। यानि अमेरिका भी जल्द ही चाइनीज ऐप्स के इस्तेमाल को अमेरिका में बैन कर सकता है। भारत के बाद यदि अमेरिका ने भी चाइनीज ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया तो, यह चीन के लिए किसी दूसरे बड़े झटके से कम नहीं होगा।

अमेरिका के विदेश मंत्री ने बताया :

बता दें भारत ने इंडियन यूजर्स के डाटा की सुरक्षा के लिहाज से यह ऐप बैन की थी, वहीं अमेरिका भी इसकी तैयारी कर रहा हैं। दरअसल, सोमवार को अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया है कि, अमेरिका में भी बहुचर्चित ऐप TikTok के साथ ही लगभग सभी चाइनीज ऐप्स को प्रतिबंधित करने को लेकर गंभीरता से विचार किया जा रहा हैं। उन्होंने आगे कहा कि, इस मामले जो अंतिम फैसला राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लेंगे वहीँ मान्य होगा। हालांकि, में यह बात पूरे दावे से कह सकता हूँ कि, चीनी ऐप्स बैन करने के मुद्दे पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है।

TikTok का दूसरा बड़ा बाजार :

आपको जानकर हैरानी होगी कि, बहुचर्चित शार्ट वीडियो मेकिंग ऐप TikTok का सबसे बड़ा बाजार भारत था। भारत में TikTok के यूजर्स की संख्या लगभग 20 करोड़ थी। इसके बाद यदि TikTok के दूसरे सबसे बड़े बाजार की बात करें तो वह अमेरिका है। जी हां, अमेरिका TikTok का दूसरा बड़ा बाजार है। यहां TikTok के यूजर का आंकड़ा 4.54 करोड़ है।

ऑस्ट्रेलिया भी कर रहा विचार :

खबरों के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया भी चाइनीज ऐप को अपने देश में बैन करने पर विचार कर रहा है। यदि ऐसा होता है, तो चीन को एक के बाद एक बड़े झटके लगेंगे। भारत द्वारा बैन की गई ऐप्स की लिस्ट देखने के लिए - क्लिक करें

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co