Google Meet ऐप का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को करना होगा भुगतान

Google कंपनी ने Google Meet ऐप को लेकर बड़ी घोषणा की है। हालांकि, कंपनी की Google Meet को लेकर की गई घोषणा ऐप के रेगुलर यूजर्स के लिए दुखद खबर हैं।
Google Meet ऐप का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को करना होगा भुगतान
Users have to pay for use Google Meet appKavita Singh Rathore -RE

राज एक्सप्रेस। लॉकडाउन के बाद से भारत में भी वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग का क्रेज बहुत तेजी से बचा है। जिसके लिए भारत में कई वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग ऐप्स का इस्तेमाल किया जाने लगा। इनमे से दुनियाभर में इस्तेमाल की जाने वाली ऐप Google Meet भी शामिल है। वहीं, अब Google कंपनी ने इस ऐप को लेकर बड़ी घोषणा की हैं। हालांकि, कंपनी की Google Meet को लेकर की गई घोषणा ऐप के रेगुलर यूजर्स के लिए दुखद खबर हैं।

Google कंपनी की घोषणा :

दरअसल, Google कंपनी ने अपनी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप Google Meet को लेकर घोषणा करते हुए जानकारी दी है कि, कंपनी अब अपने Google Meet का फ्री वर्जन बंद करने जा रही हैं। यदि आप Google Meet के रेगुलर यूजर है तो जान ले 30 सितंबर के बाद से आप इसे फ्री में मात्र 60 मिनट तक ही इस्तेमाल कर सकेंगे। यदि आप इससे ज्यादा समय के लिए इसका इस्तेमाल करना चाहते हैं तो, उसके लिए आपको कुछ पैसो का भुगतान करना होगा। बता दें, ऐसा इसलिए होगा क्योंकि, 1 अक्टूबर से Google Meet की नई पॉलिसी जीसूट और जीसूट एजुकेशन दोनों लागू हो जाएगी।

क्या हैं जीसूट :

बताते चलें, Google Meet की नई पॉलिसी जीसूट के अंतर्गत 250 यूजर्स एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर सकते हैं। जबकि, एक लाख यूजर्स लाइव देख सकते हैं। इस सेवा के तहत यूजर्र ऐप के जरिए की गई कोई भी मीटिंग की रिकॉर्डिंग भी कर सकते हैं रिकॉर्डिंग करने के बाद इसे गूगल ड्राइव में सेव किया जा सकता है, परंतु इस नए अपडेट के बाद Google Meet का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को पेमेंट करना पड़ेगा।

कितना करना होगा भुगतान :

खबरों के अनुसार, Google Meet के यूजर्स को 30 सितंबर के बाद से 30 मिनट से ज्यादा देर के लिए ऐप का इस्तेमाल करने के लिए 25 डॉलर यानी करीब 1,800 रुपये प्रति महीने का भुगतान करना होगा। यदि भुगतान Google Meet के इंटरप्राइजेज यूजर्स को भी करना होगा। बताते चलें, हाल ही में कंपनी ने इस ऐप में नया फीचर जोड़ा था और जल्द ही इसमें अन्य कई नए फीचर्स भी जोड़े जाएंगे।

गौरतलब है कि, पहले Google Meet का इस्तेमाल सिर्फ जीसूट यूजर्स ही कर सकते थे, बाद में कंपनी ने लॉकडाउन के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप्स की जरूरत को देखते हुए इस ऐप को सभी के लिए उपलब्ध करा दिया था। जिसके बाद से इस ऐप को डाउनलोड करने वालों की संख्या 50 दिन में दोगुनी हो गई थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co