रिलायंस Jio की 5वीं बड़ी एंटरप्राइजेज सॉफ्टवेयर कंपनी से डील फाइनल
Vista Equity Partners and Jio partnershipNeha Shrivastava -RE

रिलायंस Jio की 5वीं बड़ी एंटरप्राइजेज सॉफ्टवेयर कंपनी से डील फाइनल

जहां एक तरफ अनेक कंपनियां कोरोनावायरस के चलते नुकसान उठा रही हैं। वहीं, रिलायंस Jio लगातार एक के बाद एक बड़ी डील करती जा रही है। अब Jio की अमेरिकी प्राइवेट इक्विटी फर्म विस्ता डील की खबर सामने आई है।

राज एक्सप्रेस। जहां एक तरफ अनेक कंपनियां कोरोनावायरस के चलते नुकसान उठा रही हैं। वहीं, मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस Jio कोरोना संकट के बीच भी लगातार एक के बाद एक बड़ी डील करती जा रही है। कंपनी ने बीते दिनों फेसबुक और सिल्वर लेक के साथ डील फ़ाइनल की थी। वहीं, अब रिलायंस Jio की एक नई डील की खबर सामने आई है। इस डील के तहत Jio कंपनी ने अमेरिकी प्राइवेट इक्विटी फर्म विस्ता इक्विटी के साथ नई डील फाइनल की है।

कितने में हुई डील फाइनल :

दरअसल, रिलायंस Jio की योजना कंपनी को कर्ज मुक्त करने की है। इसी के तहत कंपनी लगातार एक से एक डील फाइनल कर रही है। इस नई डील के तहत अमेरिका की प्राइवेट इक्विटी फर्म विस्ता इक्विटी पार्टनर्स ने Jio साथ नई डील करने की इच्छा जताई थी। Jio कंपनी ने इस पर विचार करते हुए यह डील लगभग 11367 करोड़ रुपए में फाइनल की है। इस डील के तहत के विस्ता इक्विटी पार्टनर्स ने कंपनी के रिलायंस जियो प्लेटफार्म में 2.32% हिस्सेदारी खरीद ली है। बताते चलें, इस डील से Jio प्लेटफॉर्म्स के इक्विटी की वैल्यू 4.91 लाख करोड़ रुपए और एंटरप्राइज की वैल्यू 5.16 लाख करोड़ रुपए होगी।

दूसरी सबसे बड़ी कंपनी :

खबरों के अनुसार विस्टा कंपनी रिलायंस Jio में हिस्सेदारी खरीदने वाली विस्टा अब दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। इस डील के बारे में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी का कहना है कि, "मुझे विस्टा कंपनी का एक पार्टनर के रूम स्वागत करते हुए काफी खुशी हो रही है। हमारे अन्य भागीदारों की तरह विस्टा भी हमारे साथ समान विज़न साझा करती है। जो सभी भारतीयों के लाभ के लिए भारतीय डिजिटल ईको सिस्टम को विकसित करने और ट्रांसफॉर्मेशन का विजन है।"

विस्टा का स्टेटस :

बता दें, विस्टा कंपनी दुनिया भर की उन बड़ी कंपनियों में शुमार है जो, बड़ी विशिष्ट टेक कंपनियों में निवेश करती है। साथ ही अपनी इसकी ग्लोबल नेटवर्क के चलते यह विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी एंटरप्राइजेज सॉफ्टवेयर कंपनी है। कंपनी के पास 57 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा का कैपिटल कमिटमेंट्स हैं। वर्तमान में विस्टा के पोर्टफोलियो की अन्य कंपनी भारत में कारोबार कर रही हैं।

क्या है Jio प्लेटफॉर्म :

जानकारी के लिए बता दें, रिलायंस का Jio प्लेटफॉर्म रिलायंस इंडस्ट्रीज का ही एक डिजिटल हिस्सा है कहे एक सब्सिडियरी है। Jio प्लेटफॉर्म के अंतरगत RIL ग्रुप के सभी डिजिटल बिजनेस आते है। इसमें रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड, जियो ऐप्स आदि शामिल है। बताते चलें, मुकेश अंबानी ने पिछले 10 दिनों में अपने Jio प्लेटफार्म के जरिए रिलायंस Jio की 13.46% हिस्सेदारी बेच दी है।

कोरोना संकट के बीच भी Jio कंपनी की पिछली बड़ी डील और उससे जुड़ी जानकारी पढ़ने के लिए :

  • Jio कंपनी की फेसबुक से हुई 43,574 करोड़ रुपए की डील - क्लिक करें

  • Jio कंपनी की सिल्वर लेक से हुई 5,656 करोड़ रुपए की डील - क्लिक करें

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co